'कंडोम' दस्तावेज़ पर पोप से माफ़ी माँगी

पोप

ब्रितानी सरकार ने सार्वजनिक तौर पर रोमन कैथोलिक चर्च के धर्मगुरु पोप बैनेडिक्ट 16वें से माफ़ी माँगी है. ऐसा एक आधिकारिक दस्तावेज़ के सामने आने के बाद हुआ है.

दस्तावेज़ में एक सरकारी अधिकारी ने सुझाव दिया था कि इस साल सितंबर में पोप की प्रस्तावित ब्रिटेन यात्रा के दौरान 'बैनेडिक्ट ब्रांड' के कंडोम लॉंच किए जाने चाहिए.

साथ ही दस्तावेज़ में ये सुझाव था कि पोप को एक अबॉर्शन क्लिनिक यानी गर्भपात क्लिनिक का उद्धाटन करना चाहिए और एक समलैंगिक जोड़े को आशीर्वाद देना चाहिए.

इस दस्तावेज़ में (जो कि एक अख़बार के हाथ लगा है) ये सुझाव भी था कि बच्चों के यौन शोषण के मुद्दे पर पोप को कड़ा रुख़ अपनाते हुए कुछ बिशप्स को बर्ख़ास्त कर देना चाहिए.

ब्रितानी विदेश मंत्रालय का कहना है कि ये 'मूर्खतापूर्ण' दस्तावेज़ है और यह सरकार का आधिकारिक रुख़ नहीं दर्शाता.

वैटिकन में ब्रितानी राजदूत फ़्रांसिस कैम्पबैल ने पोप के कार्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की है और इस मुद्दे पर सरकार की ओर से खेद व्यक्त किया है.

जिस अधिकारी ने ये सुझाव दिए थे, उसको उसकी वर्तमान ज़िम्मेदारियों से मुक्त कर अन्य ज़िम्मेदारियाँ सौंप दी गई हैं.

ब्रितानी अख़बार संडे टेलिग्राफ़ के अनुसार इस दस्तावेज़ को - 'एक आदर्श दौरे में ऐसा होना चाहिए.....' कहा गया था. लेकिन जब ये दस्तावेज़ कुछ अधिकारियों तक पहुँचा और उन्होंने उसकी अपमानजनक शब्दावली पर ऐतराज़ जताया तो इस मामले में एक जाँच शुरु की गई.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.