तेल रिसाव से भयंकर समस्याएँ

मेक्सिको की खाड़ी

अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि सरकार मेक्सिको की खाड़ी में तेल के रिसाव से पैदा हुई स्थिति से निपटने के लिए हर उपलब्ध संसाधन झोंक देगी.

रिपोर्टों के अनुसार पिछले हफ़्ते तेल कंपनी बीपी के एक तेल के कुँए में धमाका होने के कारण संभवत: हर रोज़ लगभग 5000 बैरल तेल का रिसाव हो रहा है.

इस घटना के बाद संभावना जताई जा रही है कि अगले कुछ घंटों में ये तेल अनेक तटवर्ती इलाक़ों में पहुँचना शुरु हो जाएगा.

अमरीकी कोस्ट गार्ड का कहना है कि उसे तेल के लुइसियाना राज्य के तट तक पहुँचने की ख़बरें मिली हैं. इस तटवर्ती इलाक़े में रहने वाले लोगों ने बीबीसी संवाददाता को बताया है कि उन्हें तेल की बदबू आने लगी है.

आपातस्थिति की घोषणा

अमरीका की सरकार ने इसे राष्ट्र महत्व की घटना बताया है. इसके बाद वह देश के अन्य इलाक़ों से इस स्थिति से निपटने के लिए संसाधन जुटा सकती है.

लुइसियाना राज्य में आपातस्थिति की घोषणा कर दी गई है.

राष्ट्रपति ओबामा ने होमलैंड सुरक्षा मंत्री जैनेट नेपोलिटैनो समेत प्रशासन के कई प्रमुख अधिकारियों को प्रभावित क्षेत्र में भेज दिया है.

अपने कार्यालय में बोलते हुए ओबामा ने कहा, "इस स्थिति का समाधान करने के लिए और साफ़ सफ़ाई करने की कीमत की ज़िम्मेदारी बीपी कंपनी की है. लेकिन हमारा प्रशासन स्थिति के समाधान के लिए रक्षा विभाग समेत सभी उपलब्ध संसाधनों का इस्तेमाल करेगा."

तेल कंपनी बीपी मुख्य कार्यकारी अधिकारी डौग सट्ल्स का कहना है कि कंपनी रिमोट ऑपरेटिंग वाहनों का इस्तेमाल कर रही है ताकि ये पता लगाया जा सके कि समुद्र में कितने तेल का रिसाव हो रहा है. लेकिन उनका ये भी कहना है कि इसका अनुमान लगाना बहुत ही मुश्किल है.

लुइसियाना के प्रभावित क्षेत्र बे सेंट लुई के एक निवासी जॉन गर्गर ने बीबीसी को बताया, "ऐसा लगता है कि घर के सामने डीज़ल से भरा एक ट्रक खड़ा है...चक्रवाती तूफ़ान कैटरीना के प्रभावों से बाहर आ रहे इस क्षेत्र पर इसका बहुत बुरा असर हो सकता है....मछली उद्योग को धक्का लगेगा क्योंकि मछुआरों से कहा गया है कि वे तेल के पहुँचने से पहले ही जितनी मछली पकड़ना चाहते हैं, पकड़ लें."

संबंधित समाचार