मॉरिशस में आज आम चुनाव

नवीन रामगुलाम
Image caption चुनावों में मॉरिशस के प्रधानमंत्री नवीन रामगुलाम की सीधी टक्कर पॉल बेरेंगर से है

मॉरिशस में आज संसदीय चुनाव के लिए मत डाले जा रहे हैं. इन चुनावों में मौजूदा प्रधानमंत्री नवीन रामगुलाम और पांच साल पहले उनसे हारने वाले पॉल बेरेंगर के बीच सीधी टक्कर है.

हाल के दिनों में मॉरिशस के बहुसंख्यक हिंदु समुदाय और अन्य समुदायों के बीच खटास बढ़ी है. भारतीय महासागर स्थित इस देश में हिंदुओं के अलावा ईसाई, मुसलमान, क्रोएल्स और यूरोप से आए फ़्रांसीसी मूल के लोग रहते हैं.

वर्ष 2003 से 2005 तक पॉल बेरेंगर ग़ैर-दक्षिण एशियाई समुदाय के पहले प्रधानमंत्री रहे हैं.

65 वर्षीय बेरेंगर ने समाचार एजेंसी एएफ़पी से कहा है कि ये चुनाव इस बात को दर्शाएगें कि समुदाय नहीं बल्कि क़ाबियलियत के हिसाब से कोई भी व्यक्ति मॉरिशस का प्रधानमंत्री बन सकता है.

चुनाव से पहले राजधानी पोर्ट लूई में अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए वर्तमान प्रधानमंत्री नवीन रामगुलाम ने माना था कि उनकी सीधी टक्कर पॉल बेरेंगर से है.

मॉरिशस स्थित बीबीसी संवाददाता के मुताबिक आज सुबह प्रधानमंत्री रामगुलाम के संसदीय क्षेत्र में मतदाता भारी संख्या में जुटे हैं.

Image caption फ़्रांसीसी मूल के पॉल बेरेंगर नवीन रामगुलाम को चुनौती दे रहे हैं

दबदबा

1968 में ब्रिटेन से आज़ादी मिलने के बाद से ही मॉरिशस की राजनीति में बहुसंख्यक हिंदु समुदाय का दबदबा रहा है.

स्थानीय जानकारों के मुताबिक ये आम चुनाव दो व्यक्तियों के बीच सीधी टक्कर के चलते किसी राष्ट्रपति चुनाव की तरह लग रहे हैं.

इन चुनावों में किस का पलड़ा भारी है ये कहना मुश्किल हैं क्योंकि चुनाव से पहले कोई सर्वे नहीं करवाया गया है. इतना ज़रुर है कि पिछले हफ़्ते नवीन रामगुलाम की पोर्ट लुई में हुई रैली में भारी भीड़ जमा हुई थी.

संबंधित समाचार