थाईलैंड:झड़पों में दो की मौत

थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में हिंसक झड़पें हो रही हैं जहाँ हज़ारों सैनिक सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों के शिविर को सील करने की कोशिश कर रहे हैं.

सुरक्षाकर्मियों ने गोलीबारी की है और झड़पों में दो लोगों की मौत हुई है और 18 घायल हुए हैं.

रेड शर्टस के नाम से पहचाने जाने वाले प्रदर्शनकारियों ने भी जबावी हमला किया और एक पुलिस बस को आग लगा दी. कई दूतावास भी बंद कर दिए गए हैं.

प्रदर्शनकारी चाहते हैं कि थाईलैंड के प्रधानमंत्री इस्तीफ़ा दें और चुनाव की घोषणा करें. इनका कहना है कि वर्तमान सरकार अवैध है क्योंकि वो चुनाव जीतकर सत्ता में नहीं आई.

ये लोग पूर्व प्रधानमंत्री टकसिन चिनावट के समर्थक हैं जिन्हें तख़्ता पलट के बाद 2006 में सत्ता से हटा दिया गया था.

'युद्ध क्षेत्र जैसा माहौल'

बैंकॉक में रेड शर्ट कैंप के लिए पानी और बिजली की सप्लाई बंद कर दी है ताकि इलाक़े पर सरकार का नियंत्रण हो सके.

संवाददाता के मुताबिक पूरा इलाक़ा किसी युद्ध क्षेत्र की तरह बन गया है.

हिंसा तब ज़्यादा भड़क गई जब गुरुवार को प्रदर्शनकारियों के सैन्य प्रमुख माने जाने वाले जनरल खट्टिया सावासडिपोल पर किसी ने गोलीबारी कर दी.

गोलीबारी के दौरान एक फ़्रांसीसी पत्रकार को भी गोली लगी.

हज़ारों प्रदर्शनकारियों ने सुआन लुम रात्रिबाज़ार के बाहर चेकप्वाइंट बनाया हुआ है ताकि सैनिक उनके मुख्य अड्डे तक न जा सके.

प्रदर्शनकारियों ने महिलाएँ और बच्चे भी शामिल हैं और इनका कहना है कि वे बैंकॉक में अपना शिविर बनाए रखेंगे.

संबंधित समाचार