अफ़्रीका में विश्वकप फ़ुटबॉल की सरगर्मियाँ

  • बीबीसी की टीम ने पश्चिम अफ़्रीक़ा के पाँच देशों की यात्रा आइवरी कोस्ट से शुरू की है. विश्वकप फ़ुटबॉल से पहले यहाँ के जीवन के तमाम पहलुओं पर रोशनी डालना इस यात्रा का मक़सद है. (तस्वीरें: राजेश जोशी)
  • यात्रा की शुरुआत आइवरी कोस्ट के अबिदजान शहर से हुई जो एक लैगून के किनारे बसा है. लैगून का पानी शहर के बीचोंबीच नदी का एहसास दिलाता है.
  • अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रख्यात फ़ुटबॉल खिलाड़ी दिदिए द्रोगबा आइवरी कोस्ट के न्याप्रायो गाँव के रहने वाले हैं. बीबीसी की टीम से मिलने के लिए गाँव के लोग चौपाल में इकट्ठा हुए.
  • पूरे अफ़्रीक़ा को दिदिए पर गर्व है. उनके 11 नंबर की टी शर्ट पहनना यहाँ फ़ैशन सा है.
  • उनके गाँव के बच्चे उन्हें ख़ास तौर पर अपना आदर्श मानते है.
  • दिदिए के पिता एलबर्ट द्रोग्बा कहते हैं कि आइवरी कोस्ट की टीम के कप्तान होने के कारण दिदिए के कंधों पर भारी ज़िम्मेदारी है.
  • वो बीबीसी की टीम को गाँव में ही बनाया अपना मकान दिखाने ले गए. लेकिन दिदिए पिछले चार साल से यहाँ नहीं आ पाए हैं.
  • द्रोगबा ने अपनी कमाई से लाखों डॉलर धर्मार्थ के कामों में लगाने का ऐलान किया है. फिर भी कुछ लोगों का कहना है कि उन्होंने अपने गाँव के लिए बहुत नहीं किया.
  • द्रोगबा भले ही हर हफ़्ते लाखों डॉलर कमाते हों, उनके गाँव में बहुत सारे लोग अभाव ग्रस्त हैं.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.