रोम में कूड़े से बना होटल

कचरा
Image caption कचरे से होटल बनाने का मक़सद प्रदूषण की समस्या की ओर ध्यान दिलाना है.

होटल की बात करने पर बड़ी, ऊंची और आलीशान इमारतों का ख़्याल आता है, लेकिन इटली की राजधानी रोम में सिर्फ़ कूड़े से होटल बनाया गया है.

कूड़े से बना ये दुनिया का पहला होटल है जिसे लोगों के लिए खोल भी दिया गया है.

इस होटल की दीवारें आमतौर पर बने मकानों की दीवारों से अधिक ऊंची हैं और उसे यूरोप के समुद्र के तटों पर पाए गए कचरों से बनाया गया है.

यह होटल पर्यावरण प्रेमियों की उस कोशिश का नतीजा है जो समुद्री तटों पर प्रदूषण की समस्या पर लोगों का ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं.

यह होटल 12 टन कूड़े से बनाया गया है और इसमें इस्तेमाल कूड़ा यूरोप के तटों पर से उठाया गया है.

कचरों में खिलौने, किताबें, प्लास्टिक के डिब्बे, कार की ख़राब पाइपें, जूते और यहां तक कि दीवारों को बनाने के लिए प्लास्टिक के बने पुतलों के पैरों का प्रयोग किया गया है.

होटल

होटल में पूरे पांच कमरे हैं, जिनमें बिस्तर और कुर्सियां भी रखी गई हैं.

Image caption होटल में इस्तेमाल कचरा यूरोप के विभिन्न समुद्र तटों से जुटाया गया है.

होटल के डिज़ाइनर एचए शल्ट का कहना है कि उनका मक़सद एक नाटकीय संदेश देना है.

'सेव द बीच' की मुहिम से जुड़ी जुआन गारसिया का कहना है कि हर साल यूरोप में प्रत्येक वर्ग किलोमीटर के तट पर चार हज़ार किलोग्राम कूड़ा फेंका जाता है और इस होटल के माध्यम से इस समस्या पर ध्यान दिलाया गया है.

मुहिम से जुड़े लोगों का यह भी कहना है कि इस कोशिश से वे नीति निर्धारकों को भी सचेत कर रहे हैं कि यूरोप के तटों को साफ़ रखने के लिए और कोशिशें करने की ज़रूरत है.

संबंधित समाचार