पार्टी की तो जेल और कोड़ों की सज़ा

Image caption सउदी अरब में स्त्री पुरूष बिना रिश्तेदारी के मेल जोल नही रख सकते.

सउदी अरब की एक अदालत ने कुछ महिलाओं को पुरूषों को एक पार्टी में एक साथ शामिल होने के आरोप में जेल और कोड़ों की सज़ा सुनाई है.

अदालत के सूत्रों के अनुसार 11 पुरूषों और दो महिलाओं को एक से दो साल की जेल और कोड़ों की सज़ा सुनाई गई है वहीं अन्य दो महिलाओं को अस्सी कोड़े लगाए जाने का आदेश दिया गया है.

सूत्रों का कहना है कि सउदी अरब में मजहबी क़ानूनों का लागू करने वाली पुलिस, मुतौवा, ने हेल शहर में चल रही एक पार्टी पर छापा मारा.

ये शहर सउदी अरब के बेहद रूढ़िवादी शहरों में से है.

सउदी क़ानून इस्लाम की उस व्याख्या को सख़्ती से लागू करता है जिसके तहत पुरूष और महिलाएं जिनके बीच रिश्ता नहीं हो एक दूसरे से मेलजोल नहीं रख सकते.

समाचार एजेंसियों के अनुसार ये पार्टी देर रात तक जारी थी जब पुलिस ने वहां छापा मारा.

ये गिरफ़्तारियां ऐसे समय पर हुई हैं जब सउदी अरब में पुरूष और महिलाओं के मेलजोल पर बहस हो रही है.

इसी महीने एक सउदी अदालत ने एक युवक को चार महीनों की जेल और कोड़ों की सज़ा सुनाई थी क्योंकि उसने एक शॉपिंग मॉल में अपनी महिला मित्र को चूमा था और गले लगाया था.

दो साल तक उसके किसी मॉल में जाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है.

संबंधित समाचार