'अमरीका-ब्रिटेन सहयोग दुनिया के लिए अहम'

Image caption प्रधानमंत्री बनने के बाद डेविड कैमरन की ये पहली अमरीका यात्रा है.

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के साथ मुलाक़ात के बाद अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है ब्रिटेन के साथ उनके देश का रिश्ता “सही मायने में विशिष्ट” है.

उन्होंने कहा कि जब अमरीका और ब्रिटेन मिलकर काम करते हैं तो दुनिया “ज़्यादा सुरक्षित और ज़्यादा संपन्न” रहती है.

ब्रिटेन का प्रधानमंत्री चुने जाने के बाद डेविड कैमरन की ये पहली अमरीका यात्रा है.

तीन घंटों से ज़्यादा चली बैठक में दोनों नेताओं ने अफ़गानिस्तान, मध्यपूर्व, ईरान, अर्थव्यवस्था और मेक्सिको की खाड़ी में तेल रिसाव जैसे गंभीर विषयों पर बात की.

कैमरन ने कहा कि दोनों देशों के बीच रिश्ता “आवश्यक” है.

उन्होंने कहा कि दोनों ही नेता दुनिया की बड़ी चुनौतियों को हल करने के लिए एक सी सोच रखते हैं.

ब्रिटिश पेट्रोलियम

मेक्सिको की खाड़ी तेल के रिसाव के लिए ज़िम्मेदार ब्रितानी कंपनी ब्रिटिश पेट्रोलियम या बीपी दोनों ही नेताओं की बैठक का एक अहम हिस्सा बनी.

कैमरन ने जहां तेल रिसाव को एक आपदा का नाम दिया वहीं ये भी कहा कि ये दोनों देशों के हित में है कि ये कंपनी सफल हो.

Image caption ब्रिटेन में लॉकरबी विमान विस्फोट के दोषी को रिहा कर दिए जाने से अमरीका में ख़ासी नाराज़गी है. उस विस्फोट में मारे गए ज़्यादातर लोग अमरीकी नागरिक थे.

बराक ओबामा बीपी के ख़िलाफ़ काफ़ी कड़े शब्दों का इस्तेमाल कर चुके हैं.

लेकिन तेल रिसाव से भी ज़्यादा बीपी के ख़िलाफ़ अमरीका में कड़वाहट पैदा हुई है 1988 में हुए पैनएम विमान विस्फोट के दोषी, एक लीबीयाई नागरिक, की रिहाई में बीपी की कथित भूमिका को लेकर.

स्कॉटलैंड के लॉकरबी शहर के ऊपर हुए इस विमान दुर्घटना में 250 से ज़्यादा लोग मारे गए थे और उसमें ज़्यादा तादाद अमरीकियों की थी.

लेकिन विमान में बम विस्फोट के लिए ज़िम्मेदार माने जाने वाले व्यक्ति को पिछले साल अगस्त में स्कॉटलैंड की एक अदालत ने रिहा कर दिया.

अमरीका में इसकी ख़ासी आलोचना हुई और अमरीकी कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि बीपी ने उसकी रिहाई के लिए दबाव डाला क्योंकि उसे लीबिया में व्यापार करना था.

इस बम विस्फोट में लीबिया का हाथ माना गया है.

अमरीकी कांग्रेस कह रही है कि ये कंपनी लोगों से ज़्यादा अपने फ़ायदे का ध्यान रखती है.

इस मामले पर डेविड कैमरन ने कहा कि विस्फोट के दोषी को रिहा किया जाना एक ग़लत फ़ैसला था लेकिन इसमें बीपी की कोई भूमिका नहीं थी.

उन्होंने कहा कि वो इस मामले की जांच कर रहे चार अमरीकी सेनेटरों से भी मिलने को तैयार हैं.

बीपी की ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था में खासी अहमियत है.

संबंधित समाचार