इराक़ में अरबों डॉलर का हिसाब नहीं

इराक़
Image caption इराक़ में अमरीकी सेना पर पहले भी आरोप लगते रहे हैं.

अमरीका की एक सरकारी निगरानी संस्था ने इराक़ में अरबों डॉलर के खर्चे का हिसाब नहीं देने के लिए अमरीकी सेना की कड़ी आलोचना की है.

अरबों की ये राशि अमरीकी सेना को इराक़ में पुनर्निर्माण कार्य के लिए दी गई थी लेकिन इस राशि के 96 प्रतिशत का कोई हिसाब किताब नहीं दिया गया है.

मंगलवार को जारी किए गए ऑडिट में स्पेशल इंस्पेक्टर जनरल फॉर इराक रिकन्सट्रक्शन का कहना है कि अमरीकी रक्षा विभाग को इराक़ के पुनर्निर्माण के लिए जो राशि मिली उसके 96 प्रतिशत का कोई हिसाब नहीं दिया गया है.

विभाग को इराक़ के पुनर्निर्माण के लिए नौ अरब डॉलर की राशि मिली.विभाग ने 8.7 अरब डॉलर के खर्चे का कोई हिसाब नहीं दिया है. यह राशि रक्षा विभाग को इराक़ के तेल और गैस तथा सद्दाम हुसैन की संपत्तियों को बेचे जाने से हासिल हुई थी. यह पैसा 2004 से 2007 के बीच मंत्रालय को इराक़ के पुनर्निर्माण के लिए मिला था.

रिपोर्ट में कहा गया है कि इस खर्चे का कोई ब्योरा न होने की वजह से ये कहना मुश्किल है कि इस पैसे का आखिरकार हुआ क्या. यह पहली बार नहीं है कि इराक़ में अमरीकी हमले के बाद अरबों डॉलर के घपले के आरोप लगे हैं.

रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए रक्षा विभाग ने कहा है कि खर्चे के ब्यौरे गुम नहीं हुए हैं बल्कि ये ब्यौरा कहीं न कहीं पुराने दस्तावेज़ों के गठ्ठर में पडा होगा जिसे खोजने के लिए ‘अच्छा खासा प्रयास’ करना पड़ेगा.

इराक़ी सरकार से इस मुद्दे पर किसी से टिप्पणी नहीं मिल सकी है.

संबंधित समाचार