'कोहिनूर लौटा देना चाहिए'

कीथ वाज़
Image caption कीथ वाज़ लेस्टर से लेबर पार्टी के सांसद हैं

ब्रिटेन में विपक्षी लेबर पार्टी के सांसद और पूर्व मंत्री कीथ वाज़ ने कहा है कि ब्रिटेन को कोहिनूर हीरा भारत को लौटा देना चाहिए.

बीबीसी हिंदी से बातचीत में कीथ वाज़ ने ये बात तब कही है जबकि ब्रितानी प्रधानमंत्री डेविड कैमरन भारत की यात्रा पर हैं. उन्होंने कहा, "कोहिनूर भारत के लोगों की संपत्ति है और मेरा मानना है कि उसे भारत को सौंप दिया जाना चाहिए, इससे दोनों देशों के रिश्तों की नई बुनियाद बनेगी."

उन्होंने कहा, "कम से कम ब्रितानी सरकार को चाहिए कि वह कोहिनूर को अस्थायी तौर पर भारत ले जाए जहाँ भारत के लोग उसे देख सकें और जब सभी पक्ष सहमत हों तब उसे भारत को सौंप दिया जाना चाहिए."

कीथ वाज़ ने कहा, "एक ऐसे दौर में जब हम दोनों देशों के बीच बराबरी के आधार पर संबंध बनाने की बात कर रहे हैं तो यह महत्वपूर्ण है कि सदभावना की निशानी के तौर पर कोहिनूर भारत को सौंप दे."

जब कीथ वाज़ से पूछा गया कि उनकी पार्टी पिछले 13 वर्षों तक सत्ता में थी तब उन्होंने यह सुझाव क्यों नहीं दिया तो उनका जवाब था, "मैंने यह सुझाव तब भी दिया था, देखिए यह पार्टी का मुद्दा नहीं है, मैं यह बात लेबर पार्टी के सांसद के तौर पर नहीं बल्कि एक ब्रितानी सांसद के तौर पर कह रहा हूँ."

उन्होंने उम्मीद जताई कि डेविड कैमरन उनकी इस बात पर अमल करेंगे और भारत को कोहिनूर लौटाने की पहल करेंगे, जब उनसे पूछा गया कि क्या इस बारे में उन्हें सरकारी पक्ष की ओर से कोई प्रतिक्रिया मिली है तो उन्होंने कहा, "नहीं, लेकिन मुझे उम्मीद है कि कैमरन सही क़दम उठाएँगे."

ब्रिटेन में मंत्री बनने वाले भारतीय मूल के पहले व्यक्ति और लेस्टर से सांसद वाज़ का कहना है कि वे कैमरन के भारत जाने से बहुत ख़ुश हैं और "वे जितना बड़ा प्रतिनिधिमंडल अपने साथ लेकर गए हैं उससे यही लगता है कि वे भारत के साथ रिश्ते बेहतर करने के लिए कटिबद्ध हैं इसलिए अगर वे कोहिनूर लौटाने की पहल करते हैं तो उसका बहुत अच्छा असर होगा."

क्या संभव है?

जब उनसे पूछा गया कि इस बात की कितनी संभावना है कि डेविड कैमरन भारत में ऐसी कोई पहल करें तो कीथ वाज़ ने कहा, "इसका जवाब तो वही दे सकते हैं, मैंने अपनी बात उन तक पहुँचा दी है."

कीथ वाज़ का कहना है कि ब्रिटेन में एक क़ानून है जिसके तहत दूसरे देशों को उनकी कलाकृतियाँ और ऐसी ऐतिहासिक धरोहरें वापस नहीं की जा सकतीं, ये क़ानून 1963 में बनाया गया था, उन्होंने कहा, "मैं उस क़ानून में संशोधन कराने की कोशिश करूँगा ताकि कोहिनूर भारत को लौटाया जा सके."

कीथ वाज़ इस बात से चिंतित नहीं हैं कि कोहिनूर के लौटाते ही इस तरह की दूसरी चीज़ों को लौटाने की माँग का ताँता लग जाएगा, वे कहते हैं, "आज के दौर में दूसरे देशों की सांस्कृतिक धरोहर उन्हें वापस कर देने में मुझे कोई बुराई नहीं दिखाई देती."

जब उनसे पूछा गया कि क्या इस मामले में उन्हें भारतीय मूल के दूसरे सांसदों का समर्थन मिल रहा है तो उन्होंने कहा, "मैं किसी से समर्थन की उम्मीद नहीं कर रहा, मैं प्रधानमंत्री कैमरन का जवाब जानना चाहता हूँ."

उन्होंने उम्मीद जताई कि भारत सरकार कोहिनूर की वापसी की माँग ब्रितानी प्रधानमंत्री के सामने रखेगी.

कोहिनूर ब्रिटेन के हीरे जवाहरात के शाही संग्रह का अहम हिस्सा है जिसे टावर ऑफ़ लंदन म्युज़ियम में रखा गया है और इसे देखने भारतीय पर्टयक बड़ी संख्या में आते हैं.

1849 में पंजाब के राजा दिलीप सिंह को हराकर अंगरेज़ों ने उनसे कोहिनूर हीरा छीन लिया था.