'ग्राउंड ज़ीरो मस्जिद' का काम नहीं रुकेगा

Image caption जिस जगह मस्जिद बननी है वो एक पुरानी फ़ॅक्ट्री है जो इस्तेमाल नहीं होती.

न्यूयॉर्क में ग्राउंड जी़रो के पास मस्जिद बनाने की योजना को रोकने की कोशिश नाकाम हो गई है.

इस जगह को लैंडमार्क का दर्जा नहीं मिल पाया है. मस्जिद बनाने का विरोध करने वालों को उम्मीद थी कि लैंडमार्क्स प्रिज़रवेशन कमीशन इस इमारत को सुरक्षित जगह घोषित कर देगा जिस वजह से उस इमारत को गिराकर वहाँ मस्जिद नहीं बन पाएगी.

ग्राउंड ज़ीरो वो जगह है जहाँ सितंबर 2001 में हुए हमले में वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के टि्वन टॉवर धवस्त हो गए थे और हज़ारों लोगों की मौत हो गई थी.

हमलों में मारे गए कई लोगों के परिजन ग्राउंड ज़ीरो के नज़दीक 13 मंज़ीली इस्लामिक सांस्कृतिक केंद्र और मस्जिद बनाने की योजना का विरोध कर रहे हैं.

सारा पालिन समेत रिपब्लिकन पार्टी के कई सदस्यों ने मस्जिद बनाने की योजना का विरोध किया है. लेकिन न्यूयॉर्क के मेयर माइकल ब्लूमबर्ग का कहना है कि मुस्लिम समुदाय की धार्मिक आज़ादी का सम्मान किया जाना चाहिए.

इस्लामिक केंद्र का समर्थन करने वालों का तर्क है कि ये इमारत बेहतर अंतर-धार्मिक रिश्तों का प्रतीक बनेगी जबकि विरोधियों का कहना है कि ऐसी जगह के पास मस्जिद नहीं बनाई जानी चाहिए जहाँ इस्लामिक कट्टरपंथियों ने हज़ारों लोगों को मार दिया था.

रिपब्लिकन पार्टी की नेता सारा पालिन ने लिखा है कि ग्राउंड ज़ीरो के पास मस्जिद बनाना उन मासूम लोगों के दिलों में खंजर मारने के समान है जिनके अपने हमले में मारे गए.

वैसे लोग अभी से ही इमारत को मस्जिद के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं.

संबंधित समाचार