एलाबामा का बीपी के ख़िलाफ़ मुकदमा

बीपी का लोगो
Image caption माना जा रहा है कि व्यक्तिगत तौर पर 12 राज्यों में लगभग 300 लोगों ने मुआवज़े की याचिकाएँ दायर की हैं

मैक्सिको की खाड़ी में ब्रितानी कंपनी ब्रिटिश पेट्रोलियम (बीपी) के तेल कुएँ से रिसाव के बाद एलाबामा अमरीका का पहला प्रांत है जिसने बीपी और ट्रांसोशन के ख़िलाफ़ मुआवज़ा देने के लिए मुकदमा दायर किया है.

इस अप्रैल में तेलु के कुएँ में धमाका हुआ था जिसके बाद लाखों गैलन तेल समुद्र में बहने लगा था.

ताज़ा ख़बरों के मुताबिक मरम्मत के बाद अस्थायी तौर पर तेल रिसना बंद हो गया है और रिसे हुए तेल में से तीन-चौथाई की सफ़ाई कर दी गई है.

भीषण नुकसान, दोनों कंपनियाँ ज़िम्मेदार

इस घटना में 11 लोग मारे गए थे और उस समय अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इसे पर्यावर्ण की दृष्टि से अमरीका के 9/11 की संज्ञा दी थी.

अमरीका से बीबीसी संवाददाता एंडी गैलेकर के अनुसार एलाबामा के एटॉर्नी जनरल ने प्रांत की ओर से दो याचिकाएँ दायर की हैं जिनमें दोनों कंपनियों के ख़िलाफ़ अपने वादे न निभाने का आरोप लगाया गया है.

फ़िलहाल ये स्पष्ट नहीं है कि प्रांत दोनों कंपनियों से कितने मुआवज़े की मांग कर रहा है.

एलाबामा के एटॉर्नी जनरल ट्रॉय किंग ने कहा है कि तेल का कुआँ बीपी का था जिसने इस पर काम का ठेका ट्रांसोशन को दिया और भीषण नुकसान के लिए दोनों कंपनियाँ जिम्मेदार हैं.

इन याचिकाओं में एलाबाम के तटवर्ती इलाक़ों को क्षति पहुँचाने, अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुँचाने और उद्योग के मानकों पर खरा न उतरने के आरोप लगाए गए हैं.

ग़ौरतलब है कि एलाबामा के गवर्नर बॉब रिले इस क़ानूनी लड़ाई से सहमत नहीं हैं और कह चुके हैं कि उन्हें उम्मीद है कि बीपी के साथ कोर्ट के बाहर समझौता हो जाएगा.

माना जा रहा है कि व्यक्तिगत तौर पर लोगों ने बीपी और अन्य कंपनियों के ख़िलाफ़ 12 राज्यों में 300 याचिकाएँ दायर की हैं.

संबंधित समाचार