'यूरोप में मुंबई जैसे हमलों की साज़िश'

लंदन में धमाका (फ़ाइल फ़ोटो)
Image caption लंदन में 2005 में भीषण बम धमाके हुए थे

पश्चिमी देशों की ख़ुफ़िया एजेंसियों का कहना है कि उन्हें अल क़ायदा की एक साज़िश का पता चला है जिसके तहत वो मुंबई हमले के अंदाज़ में पश्चिमी यूरोप को निशाना बनाना चाहते थे.

पत्रकारों को लीक की गई जानकारी के अनुसार ये साज़िश अभी अपने आरंभिक दौर में थी और खुफ़िया अधिकारियों का मानना है कि इसमें ब्रिटेन, फ्रांस और जर्मनी के कई शहरों को निशाना बनाया जाना था.

माना जा रहा है कि योजना की नींव पाकिस्तान के क़बायली इलाकों में रखी गई है और इसमें छोटे-छोटे कमांडो स्टाइल के जत्थों के शामिल होने की बात थी.

अधिकारियों का मानना है कि जिहादी गुट पश्चिमी नागरिकों को बंधक बना कर उनकी हत्या करने का इरादा रखते थे.

साल 2008 में मुंबई में हुए हमलों में 170 से ज़्यादा लोग मारे गए थे और इस बार की योजना भी कथित रूप से उसी तरीके से हमला करने की थी.

ये योजना वैसे अपने आरंभिक दौर में थी लेकिन सोच के स्तर से बढ़कर योजना बनाने के स्तर तक पहुंच चुकी थी. अभी न तो किसी गिरफ़्तारी की संभावना है न ही सुरक्षा के स्तर में किसी तरह की बढ़ोतरी की गई है.

यूरोप और अमरीका दोनों ही जगह की ख़ुफ़िया एजेंसियां हाल के दिनों में इसे अल क़ायदा के सबसे गंभीर हमले की योजना के तौर पर देख रही हैं.

बीबीसी के सुरक्षा मामलों के संवाददाता फ़्रैंक गार्डनर का कहना है कि खुफ़िया एजेंसियां इस जानकारी को गुप्त रखने की कोशिश में थीं जिससे और आपराधिक सबूत इकठ्ठे किए जा सकें लेकिन आरंभिक जानकारी अमरीकी मीडिया में लीक हो गई.

संबंधित समाचार