उत्तर कोरिया के 'युवराज' सामने आए

किम जोंग-उन

उत्तर कोरिया में किम जोंग-उन शनिवार को विदेशी मीडिया के सामने पहली बार पेश हुए. माना जा रहा है कि जल्द ही वो उत्तर कोरिया में सत्ता संभालेंगे.

किम जोंग-उन राजधानी प्योंगयांग में पहली बार अपने पिता और उत्तर कोरिया के मौजूदा शासक किम जोंग इल के साथ नज़र आए. इस दौरान भारी भीड़ ने उनका अभिवादन किया.

किम जोंग इल ने अपने सबसे छोटे बेटे किम जोंग-उन को पिछले महीने ही नेतृत्व में स्थान दिया है.

रविवार को उत्तर कोरिया में सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी की 65वीं सालगिरह है और इस मौक़े पर एक बड़ी परेड निकाली जाएगी.

सालगिरह से पहले एक समारोह में किम जोंग-उन अपने पिता के साथ बैठे नज़र आए. इस दौरान विदेशी पत्रकारों को भी आमंत्रित किया गया था.

इसे किम जोंग-उन को सत्ता सौंपने के संकेत के रूप में देखा जा रहा है.

उत्तराधिकारी

हाल ही में उन्हें सेंट्रल मिलिटरी कमीशन और वर्कर्स पार्टी का उप प्रमुख नियुक्त किया गया और साथ ही उन्हें सैनिक जनरल का पद भी सौंपा गया है.

जानकारों का मानना है कि किम जोंग-उन का अपने पिता का उत्तराधिकारी बनना तय है.

बताया जाता है कि मौजूदा शासक किम जोंग इल का स्वास्थ्य ठीक नहीं है और वे अपने जीते-जी उत्तराधिकार के प्रश्न पर पक्का फ़ैसला कर देना चाहते हैं.

किम जोंग-उन के बारे में बहुत जानकारी उपलब्ध है, बस इतना मालूम है कि वे 27 वर्ष के हैं और स्विट्ज़रलैंड में उन्होंने पढ़ाई की है.

दुनिया ने पहली बार उनकी तस्वीरें और वीडियो तब देखीं, जब पिछले महीने वर्कर्स पार्टी के सम्मेलन में उन्होंने हिस्सा लिया, इस सम्मेलन का आयोजन 30 वर्षों के अंतराल के बाद किया गया था.

उत्तर कोरिया के मौजूदा शासक किम जोंग इल ने 1994 में अपने पिता किम इल सुंग के निधन के बाद देश की सत्ता संभाली थी.

1948 में कोरिया के दो हिस्से हुए थे और उत्तर कोरिया का नेतृत्व वामपंथी रुझान वाले किम इल सुंग ने संभाला था.

संबंधित समाचार