ब्राज़ील में नए राष्ट्रपति के लिए मतदान

डिल्मा रौसेफ़ और जोस सेरा
Image caption सत्तारूढ़ दल की महिला उम्मीदवार डिल्मा रौसेफ़ का मुक़ाबला जोस सेरा से है

ब्राज़ील में राष्ट्रपति पद के चुनावों में रविवार को मतदान हो रहा है. लूला डिसिल्वा राष्ट्रपति के तौर पर अपना दूसरा कार्यकाल पूरा करने के बाद लोकप्रियता के चरम पर हैं और पद छोड़ रहे हैं.

जनमत सार्वेक्षणों के अनुसार ब्राज़ील के राष्ट्रपति लूला डिसिल्वा की सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी की उम्मीदवार डिल्मा रौसेफ़ विपक्षी सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जोस सैरा से ज़्यादा लोकप्रिय हैं.

तीन अक्तूबर को पहले चरण का चुनाव हुआ था और रौसेफ़ को मज़बूत बढ़त ज़रूर मिली थी लेकिन अनिवार्य 50 प्रतिशत वोट नहीं मिल पाए थे. उन्हें 47 प्रतिशत और उनके प्रतिद्वंद्वी को 33 प्रतिशत वोट मिले थे.

यदि रौसेफ़ जीत जाती हैं तो वे ब्राज़ील की पहली महिला राष्ट्रपति होंगी.

ब्राज़ील में मतदान ग्रीनिच मान समयानुसार सुबह दस बजे से शाम आठ बजे तक होने हैं. ब्रज़ील में भी भारत की ही तरह इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन का इस्तेमाल होता है और नतीजा मतदान बंद होने के कुछ ही घंटे बाद आ जाने की संभावना है.

ग्रीन पार्टी के दो करोड़ वोट अहम

बीबीसी के पाओलो काबराल के अनुसार इस चुनाव अभियान में दोनों पक्षों का रूख़ आक्रामक रहा है और व्यक्तिगत आरोपों के साथ-साथ भ्रष्टाचार के आरोप भी लगे हैं.

लेकिन शुक्रवार को प्रसारित टीवी बहस में ऐसा कुछ भी नाटकीय नहीं हुआ जिससे संकेत मिलें कि मतदान के दौरान पिछले चरण के मुकाबले में कुछ अलग होने जा रहा है.

डिल्मा रौसेफ़ को राष्ट्रपति लूला डिसिल्वा का पूर्ण समर्थन हासिल है.

विपक्ष के उम्मीदवार जोस सैरा ने उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया है लेकिन जिस सरकार को 80 प्रतिशत तक लोकप्रियता हासिल हो, उससे बाज़ी मार पाना उनके लिए मुश्किल काम साबित हो रहा है.

इस चुनाव में सबसे अहम है उन दो करोड़ मतदाताओं को वोट जिन्होंने पहले चरण में ग्रीन पार्टी की मरीना सिल्वा को वोट दिया था.

संबंधित समाचार