ग़लतबयानी पर संसद की सदस्यता गई

वुलस
Image caption फ़िल वुलस फ़ैसले पर पुनर्विचार की मांग कर रहे हैं

ब्रिटेन की एक अदालत ने चुनाव प्रचार के दौरान ग़लतबयानी करने के आरोप में एक सांसद की सदस्यता समाप्त कर दी है और अगले तीन साल उनके चुनाव लड़ने पर रोक लगा दी है.

उत्तरी इंग्लैंड से कई दफ़ा सांसद रह चुके फ़िल वुलस पिछली लेबर सरकार में मंत्री भी थे.

दो जजों की खंडपीठ का कहना है कि लेबर पार्टी के सांसद ने अपने प्रतिद्बंदी के ख़िलाफ़ जानबूझकर ग़लत बयानी की थी.

ब्रिटेन के पिछले लगभग सौ सालों के इतिहास में ये पहली बार है जब चुनाव प्रचार से संबंधित शिकायत को लेकर किसी सांसद की सदस्यता चली गई हो.

फ़िल वुलस ने मई के आम चुनाव के दौरान ओलडम ईस्ट की सीट बहुत ही मामूली बढ़त से जीती थी.

उनके मुख्य प्रतिद्बंदी ने शिकायत की थी कि वुलस के प्रचार से जुड़ी सामग्री में उनका संबंध इस्लामिक चरमपंथियों से बताया गया था.

मामले की सुनवाई कर रहे खंडपीठ ने ओलडम ईस्ट का चुनाव रद्द कर दिया है और वहाँ दुबारा चुनाव करवाने के आदेश दिए हैं.

अदालत ने फ़िल वुलस के लिए अगले तीन साल तक संसद का चुनाव लड़ने पर पाबंदी लगा दी है.

पूर्व मंत्री इस फ़ैसले पर पुनर्विचार की माँग कर रहे हैं.

संबंधित समाचार