हैप्पी मील के साथ खिलौना बंद

Image caption फ़ास्ट फ़ूड में कैलोरी की अत्यधिक मात्रा होती है और उसे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक माना जाता है.

अमरीका के सैन फ्रांसिस्को शहर के फ़ास्ट फ़ूड रेस्तरां अब बच्चों को लुभाने के लिए बर्गर और अन्य खाने की चीज़ों के साथ खिलौने नहीं दे सकेंगे यदि वो खाना स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं है.

स्वास्थ्य और पर्यावरण के कई क्षेत्रों में पहल करने के लिए मशहूर कैलिफ़ोर्निया के शहर सैन फ्रांसिस्कों ने इसके लिए एक क़ानून पारित कर दिया है.

फ़ास्ट फू़ड का सबसे जाना पहचाना ब्रांड मैक्डोनल्ड्स बच्चों को लुभाने के लिए ‘हैप्पी मील’ देता है जिसके साथ उन्हें एक खिलौना भी मिलता है.

सैन फ्रांसिस्को में वो ऐसा नहीं कर सकेंगे क्योंकि इस क़ानून के समर्थकों का कहना है कि फ़ास्ट फ़ूड चेन बच्चों में बढ़ते मोटापे की बड़ी वजह हैं.

उनका कहना है कि हैप्पी मील वाले खानों में कैलोरी की मात्रा बहुत ज़्यादा होती है और उनकी वजह से ऐसी स्थिति पैदा हो रही है कि अमरीका के 20 प्रतिशत बच्चे मोटापे का शिकार हैं.

अब सैन फ्रांसिस्को के फ़ास्ट फ़ूड रेस्तरां बच्चों को खिलौना तभी दे सकेंगे यदि खाना स्वास्थ्यवर्धक होगा.

मैक्डोनल्ड्स ने अपने कई वरिष्ठ अधिकारियों को इस क़ानून को पारित होने से रोकने के लिए सैन फ्रांसिस्को भेजा था.

कंपनी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, “माता-पिता हमें बताते हैं कि (अपने बच्चे को क्या खिलाएं) ये उनका अधिकार है और उनकी ज़िम्मेदारी है न कि सरकार की.”