फ़ेसबुक की नई संदेश सेवा शुरू

फ़ेसबुक
Image caption फ़ेसबुक का इस्तेमाल करनेवाले 50 करोड़ लोगों के लिए ये नई सुविधा एक क्रांति से कम नहीं मानी जा रही.

सोशल नेटवर्किंग साइट फ़ेसबुक ने एक नई संदेश सर्विस की शुरूआत की है.

माना जा रहा है कि लोग एक दूसरे से जिस तरह से आज जुड़ते हैं, ये नई सेवा उसमें क्रांति ला देगी.

फ़ेसबुक के संस्थापक मार्क ज़करबर्ग ने कहा है कि ईमेल के बारे में माना जा रहा था कि वो औपचारिक और बहुत धीमा काम करनेवाला था.ये भावना युवा वर्ग में ज़्यादा थी.

मार्क ज़करबर्ग ने कहा कि ये नई पद्धति एसएमएस टेक्सटिंग, इंस्टैंट मेसेजिंग, ईमेल और ऑनलाइन चैटिंग को एकीकृत फ़ीड में लेकर आएगी.

Image caption फ़ेसबुक के संस्थापक मार्क ज़करबर्ग हैं.

इससे फ़ेसबुक का इस्तेमाल करनेवाले किसी संदेश का जवाब एक ही जगह पर जिस तरह से देना चाहें, दे पाएँगे.

संवाददाताओं का कहना है कि फ़ेसबुक का इस्तेमाल करनेवाले लोग क़रीब 50 करोड़ हैं.

फ़ेसबुक इस तरह के बदलाव लाकर ये चाहता है कि लोग इस साइट पर और ज़्यादा वक़्त व्यतीत करें जिससे कि फ़ेसबुक को विज्ञापन मिलने की क्षमता बढ़े.

फ़ेसबुक के इस नए क़दम को उसके प्रमुख प्रतिस्पर्धी गूगल और याहू के लिए एक नई चुनौती के तौर पर देखा जा रहा है.

संबंधित समाचार