यूरोप में बर्फ़बारी, क्रिसमस यात्री फँसे

पश्चिमी यूरोप में चल रही बर्फ़बारी के कारण हज़ारों यात्री हवाईअड्डों और सड़क पर फँसे हुए हैं. क्रिसमस पर घर आने वाले लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है.

पेरिस के हवाईअड्डे पर सैकड़ों उड़ानें रद्द करनी पड़ी हैं. वहाँ एक टर्मिनल की छत पर दो फ़ीट बर्फ़ इक्टठा हो गई थी और दो हज़ार यात्रियों को वहाँ से दूसरी जगह ले जाना पड़ा क्योंकि आशंका जताई जा रही थी कि बर्फ़ के भार से छत गिर सकती है.

फ़्रांसीसी अधिकारियों का कहना है कि बर्फ़ पिघलाने वाला पदार्थ पर्याप्त मात्रा में नहीं है और इसकी आपूर्ति सोमवार तक ही हो पाएगी.

बेल्जियम में भी लोगों को सलाह दी गई है कि वे सड़कों पर न निकलें.

दिक्कत

जर्मनी और इटली में सैकड़ों सड़क दुर्घटनाओं की ख़बर है. इटली के वेनिस शहर में भारी बारिश के कारण कुछ हिस्सों में बाढ़ आ गई है.

वहीं डेनमार्क में अधिकारियों का कहना है कि कुछ जगहों पर तो उन्होंने सड़कों पर से बर्फ़ हटाने की कोशिश बंद कर दी है.

बॉर्नहॉम द्वीप में सैकड़ों पर्यटकों ने रात नौकाओं या सेना छावनियों में गुज़ारी. कहा जा रहा है कि बहुत से पर्यटक तो द्वीप से डेनमार्क क्रिसमस से पहले लौट ही नहीं पाएँगे.

स्वीडन और आयरलैंड में भी हालात ख़राब हैं.ब्रिटेन में स्टॉकलैंड और पूर्व-उत्तर इंग्लैंड में बर्फ़बारी का पूर्वानुमान है. कई रेलवे लाइनों पर आंशिक सेवा चल रही है.

संबंधित समाचार