ब्राज़ील में बाढ़ से 300 से ज़्यादा मरे

Image caption ब्राज़ील में बाढ़ और भूस्खलन से भारी तबाही हुई है

ब्राज़ील के दक्षिण-पूर्वी इलाक़े में अचानक आई बाढ़ और भूस्खलन में मरने वाले की संख्या 348 तक पहुँच गई है.

ब्राज़ील के मीडिया से मिली खबरों के अनुसार पहाड़ी शहरों नोवा फ्रिबर्गो, टेरेसोपोलिस और पेट्रोपोलिस में 168, 146 और 34 लोगों के मरने का समाचार हैं.

रियो डी जनेरो शहर के उत्तर में फंसे लोगों को बचाने के लिए हैलिकॉप्टरों का इस्तेमाल किया जा रहा है.

हाल के सालों में ब्राज़ील में कई बाढ़ों को झेला है जिसमें हज़ारों लोग प्रभावित हुए है.

गुरुवार को वहाँ फिर भारी बारिश शुरु हो गई है और इस सब के बीच सहायताकर्मी बचाव कार्यों में लगे हैं.

पेट्रोपोलिस के मेयर पॉल मुस्त्रांगी का कहना है, “जो यहाँ हुआ वो 2008 से भी बहुत खराब था. यहा कुछ नहीं बचा है. हर घर टूट चुका है.”

अभी भी बहुत से लोग लापता है और डर है कि मरने वालों की संख्या और अधिक हो सकती है.

अब डर पानी से होने वाली बिमारियों का भी है.

ऑस्ट्रेलिया में बाढ़ से तबाही

इधर ऑस्ट्रेलिया के तीसरे सबसे बड़े शहर ब्रिस्बेन में भी इस दशक की सबसे गंभीर बाढ़ आई है.

Image caption ऑस्ट्रेलिया में भी अचानक आई बाढ़ ने कहर बरपाया है

बाढ़ ने चारों तरफ तबाही मचाई है, घरों में पानी भरा हुआ है और फर्नीचर और यहाँ तक कारें भी सड़कों पर बहती दिखाई दे रही हैं.

हालांकि पुलिस का कहना है कि पानी आशंका से कम स्तर तक बढ़ा है. पहले आशंका व्यक्त की गई की जलस्तर पाँच मीटर से ऊपर तक बढ़ेगा लेकिन ये 4.6 मीटर तक ही बढ़ा है.

बिजली की सप्लाई बंद पड़ी है ताकि पानी भरने की सूरत में जेनरेटरों में आग न लग जाए. हज़ारों लोगों से कहा है कि वे या घर पर ही रहें या इलाक़ा छोड़ दें.

अब तक क्वींसलैंड प्रांत में आई बाढ़ से 17 लोगों की मौत हो चुकी है.

क्वींसलैंड में आई बाढ़ से अरबों डॉलर का नुकसान हुआ है और दो लाख लोग प्रभावित हुए हैं.

प्रधानमंत्री जूलिया गिलार्ड ने आगाह किया है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है.

आशंका जताई जा रही है कि कई इलाक़ों में और बारिश होगी और न्यू साउथ वेल्स में भी बाढ़ आने की ख़बरें हैं.

संबंधित समाचार