दीवानगी ने जेल पहुंचाया

Image caption कैरोलाइन केनेडी अमरीका के प्रतिष्ठित लोगों में गिनी जाती हैं.

पिछले दो सालों से कैरोलाइन केनेडी की बेटी को कथित रूप से लगाव भरे संदेश भेज रहा एक पाकिस्तानी मूल का व्यक्ति अब जेल में है.

कैरोलाइन केनेडी अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति जॉन एफ़ केनेडी की एकमात्र जीवित संतान हैं.

पुलिस के अनुसार 41 साल का नईम अहमद पिछले दो सालों से कैरोलाइन केनेडी की बेटी तातियाना स्लॉशबर्ग को कभी फूल, कभी गुब्बारे और अक्सर प्रेमसंदेश भेज कर परेशान कर रहा था.

इन संदेशों में वो अपने आप को तातियाना का पति कहता था.

न्यूयॉर्क के डेली न्यूज़ अख़बार में छपे विवरण के अनुसार नईम अहमद ने केनेडी परिवार की सुरक्षा से जुड़ी फ़र्म की ओर से चेतावनी के बावजूद उन्हें 40 संदेश भेजे.

प्रेम संदेश

ईमेल के ज़रिए भेजे एक कार्ड में उसने कथित रूप से लिखा है: “मुझे तुम्हारा आकार, तुम्हारी आवाज़, तुम्हारी गर्माहट और तुम्हारा स्वाद भी पता है. तुम्हारा सप्ताहांत अच्छा गुज़रे हनी बनी. तुम्हारा पति, नईम.”

अहमद के वकील का कहना है कि ये संदेश किसी को नुकसान नहीं पहुंचा सकते. न्यायाधीश ने छह दिसंबर से जेल में बंद इस व्यक्ति की मानसिक जांच का आदेश दिया है.

वकील के अनुसार न्यूयॉर्क के रहनेवाले अहमद बेरोज़गार हैं और टैक्सी ड्राइवर के लाइसेंस के लिए पढ़ाई कर रहे थे.

अदालत में दाखिल दस्तावेज़ के अनुसार नईम अहमद ने 2008 के अक्तूबर से ही तातियाना को संदेश भेजना शुरू कर दिया था.

मई 2009 में उन्होंने कैरोलाइन केनेडी को भी मदर्स डे के मौके पर उपहार भेजा और ईमेल में कहा कि किसी से वो इस उपहार के बारे में न बताएं.

उन्होंने कथित रूप से लिखा था, “परिवार के मामलों को हम आपस में बैठ कर सुलझा सकते हैं.”

उन्होंने तातियाना को पियानो की धुन पर बना एक कार्ड भेजा था जिस पर नग्न तस्वीरों का मॉंटाज था और बिस्तर पर बिखरी गुलाब की पंखुड़ियां बनी हुई थीं.

नईम अहमद के वकील का कहना है कि वो केनेडी परिवार के बहुत बड़े प्रशंसक हैं लेकिन वो अपनी भावनाओं को कुछ ज़्यादा ही दूर खींच ले गए.

संबंधित समाचार