समुद्री डाकुओं का बढ़ा बोलबाला

समुद्री लुटेरे
Image caption समुद्री लुटेरों का बोलबाला 2010 में बढ़ा

एक नई रिपोर्ट के अनुसार दुनियाभर में वर्ष 2010 में सबसे ज़्यादा लोगों को समुद्री डाकुओं ने अगवा किया है.

रिपोर्ट का कहना है कि पिछले साल 53 जहाज़ अगवा किए गए और 1181 लोगों को बंदी बनाया गया.

एक साल में इतने सारे लोगों को पहली बार समुद्री डाकुओं ने एक साल में अगवा किया है.

इंटरनेशनल मैरीटाइम ब्यूरो ने अपनी ग्लोबल पायरेसी रिपोर्ट में ये आकड़े जारी किए है.

समुद्री डाकुओं के हमले पिछले चार सालों में लगातार बढ़े हैं. पर 2009 के मुक़ाबले 2010 में जहाज़ों पर हमले 10 प्रतिशत बढ़े हैं.

इंटरनेशनल मैरीटाइम ब्यूरो के निदेशक कैप्टन पोटेंगल मुकुन्दन कहते हैं, “अगआ करवाए गए जहाज़ों और लोगों के बारे में आए ये आकड़े अब तक के सबसे ज़्यादा है. इन हमलों की बढ़ती संख्या चिंताजनक है.’’

मुकुन्दन का कहना है कि उनकी संस्था 1991 से आकड़े इकट्ठा कर रही है.

उनका कहना है कि “सोमालिया के पास के समुद्र में सशस्त्र समुद्री डाकू मछली पकड़ने वाले और व्यवसायिक जहाज़ों को काबू में कर लेते हैं और फिर उनका इस्तेमाल हमले करने के लिए करते हैं.”

जहाँ सोमालिया के तट पर ऐसी घटनाएं बढ़ी है वही एडन की खाड़ी में ये घटनाएं आधे से कम हो रही हैं. इसका कारण ये है कि यहाँ दुनिया भर की नौसेना ने अपनी गश्त बढ़ाई है और समुद्री हमलों को कम करने में मदद की है.

मुकुन्दन का कहना है कि इन हमलों को तभी रोका जा सकता है जब सोमालिया में कानून व्यवस्था बेहतर बनाई जाए.

संबंधित समाचार