सेक्स कांड में मांग नामंज़ूर

बर्लुस्कोनी इमेज कॉपीरइट Other
Image caption बर्लुस्कोनी आरोपों को राजनीति से प्रेरित बता रहे हैं

इटली की संसद ने प्रधानमंत्री सिल्वियो बर्लुस्कोनी पर लगे सेक्स आरोपों की जाँच कर रहे वकीलों के अनुरोध को ठुकरा दिया है.

मिलान के मजिस्ट्रेट ने प्रधानमंत्री के अकाउंटेंट के कार्यालय की तलाशी लेने का अनुरोध किया था. लेकिन संसद के निचले सदन ने इसे नामंज़ूर कर दिया.

प्रधानमंत्री बर्लुस्कोनी पर एक नाबालिक यौनकर्मी के साथ यौन संबंध के आरोप हैं. लेकिन 74 वर्षीय सिल्वियो बर्लुस्कोनी इन आरोपों को राजनीति से प्रेरित बता रहे हैं.

उन्होंने पिछले महीने ही यह स्पष्ट कर दिया था कि वे इस मामले पर इस्तीफ़ा देने वाले नहीं हैं.

वकीलों ने बर्लुस्कोनी के अकाउंटेंट गियूसेपे स्पिनेली के कार्यालय की तलाशी की मांग की थी. स्पिनेली पर प्रधानमंत्री की ओर से नाबालिक यौनकर्मी को पैसे देने का संदेह व्यक्त किया जा रहा है.

आरोप

ये भी आरोप है कि बर्लुस्कोनी की कथित सेक्स पार्टियों में आने वाली महिलाओं को भी पैसे दिए गए.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption महरोग भी सेक्स संबंधों से इनकार करती हैं

बर्लुस्कोनी ने यौनकर्मियों के साथ सेक्स संबंध मामले में पूछताछ के लिए पेश होने से इनकार कर दिया था.

वकीलों का आरोप है कि इन यौनकर्मियों मोरक्को की 18 वर्षीय एक बेली डांसर भी शामिल थी, जो बर्लुस्कोनी की पार्टी में शामिल हुई और उसे सेक्स के लिए पैसे भी दिए गए. उस समय उसकी उम्र 17 साल थी.

इटली में यौनकर्मियों के पास जाना कोई अपराध नहीं है लेकिन 18 वर्ष से कम उम्र की लड़कियों से यौन संबंध रखने के मामले में जेल भी जाना पड़ सकता है.

बर्लुस्कोनी और करीमा अल महरोग ने सेक्स संबंधों से इनकार किया है लेकिन महरोग ने यह स्वीकार किया है कि बर्लुस्कोनी ने उन्हें सात हज़ार यूरो उपहार स्वरूप दिए थे.

इटली के समाचार पत्र उन 20 से ज़्यादा महिलाओं के टेलीफ़ोन कॉल्स के विवरण छाप रहे हैं, जिन पर बर्लुस्कोनी की कथित सेक्स पार्टियों में शामिल होने का आरोप है.

हालाँकि प्रधानमंत्री बर्लुस्कोनी इन आरोपों को राजनीति से प्रेरित बताते हैं.

संबंधित समाचार