गद्दाफ़ी अपना पद छोड़ें: बराक ओबामा

इमेज कॉपीरइट

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने एक दफ़ा फिर कहा है कि लीबियाई नेता मोअम्मर गद्दाफ़ी को अपना पद छोड़ देना चाहिए.

व्हाइट हाउस में पत्रकारों से बातचीत करते हुए ओबामा ने कहा कि कर्नल गद्दाफ़ी सत्ता में बने रहने का नैतिक आधार खो चुके हैं.

ओबामा ने ये भी कहा कि लीबिया में जो लोग भी आम नागरिकों पर हिंसा करने के लिए ज़िम्मेदार हैं उन्हें बख़्शा नहीं जाएगा.

ये पूछे जाने पर कि क्या वो लीबिया की हवाई सीमा के उपर नो फ्लाई ज़ोन स्थापित किए जाने का समर्थन करते हैं ओबामा ने कहा कि वो सभी विकल्पों पर विचार कर रहे हैं.

राष्ट्रपति ओबामा ने कहा कि उन्होंने लीबिया से भाग रहे हज़ारों मज़दूरों को देश लौटने के लिए सेना के हवाई जहाज़ के इस्तेमाल के आदेश दिए हैं.

इस बीच अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय ने लीबिया के नेताओं पर मानवता के विरुद्ध अपराध के मामले में जाँच शुरू करने का फ़ैसला किया है.

हेग स्थित न्यायालय के अभियोजकों ने कहा है कि कर्नल गद्दाफ़ी समेत लीबिया के कई लोगों के ख़िलाफ़ जाँच शुरू करने के लिए पर्याप्त सबूत उपलब्ध हैं.

अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय के मुख्य अभियोजन कार्यालय ने कम-से-कम नौ ऐसे मामलों को चिन्हित किया है जो कि मानवता के ख़िलाफ़ अपराध की श्रेणी में आ सकते हैं.

सबसे प्रमुख आरोप 15 और 20 फ़रवरी के बीच पूर्वी शहर बेन्ग़ाज़ी में कथित रूप से सुरक्षा बलों के हाथों 257 आम लोगों की मौत का है.

पूर्वी लीबिया के ही तीन अन्य शहरों में 26 अन्य लोगों की मौत का मामला भी अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के सामने है.

इमेज कॉपीरइट Reuters (audio)
Image caption अंतराष्ट्रीय अदालत के प्रमुख अभियोजक लुई मोरेनो ओकेम्पो ने कहा कि शुरुआती जाँच के लिए पर्याप्त सबूत उपलब्ध हैं

सिर्फ़ मिसराता नामक शहर में ही कथित रूप से 14 लोग लीबियाई सुरक्षा बलों के हाथों मारे गए थे.

हेग स्थित अदालत लीबिया में अवैध रूप से लोगों को हिरासत में रखे जाने के कई मामलों पर भी ग़ौर कर रही है.

इस तरह के सभी मामलों में लीबिया के नेता मुअम्मर गद्दाफ़ी का नाम इसलिए जुड़ता है कि वे लीबिया कई सुरक्षा और सैन्य संगठनों के प्रमुख हैं.

अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय के सूत्रों के अनुसार कुल मिला कर 15 लीबियाई अधिकारियों पर मामले चलाए जा सकते हैं.

विश्लेषकों का कहना है कि हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय न्यायालय की ताज़ा पहल के बाद कई लीबियाई अधिकारी कर्नल गद्दाफ़ी की तरफ़दारी बंद कर सकते हैं.

लड़ाई

इस बीच लीबिया में कर्नल गद्दाफ़ी के समर्थकों और सरकार के विरोधियों के बीच भीषण लड़ाई के एक दिन बाद गद्दाफ़ी की सेना ने पूर्वी शहर ब्रेगा पर हवाई हमले किए हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption लीबिया की वायु सेना ब्रेगा शहर को रह-रह कर निशाना बना रही है

विद्रोहियों के एक प्रवक्ता के अनुसार लड़ाकू विमानों ने एक और पूर्वी शहर अजदाबिया पर भी बमबारी की है.

उल्लेखनीय है कि लीबिया के अधिकतर पूर्वी शहरों पर सरकार विरोधियों का कब्ज़ा हो चुका है.

ब्रेगा नगर में तेल के कुएँ हैं. कर्नल गद्दाफ़ी की समर्थक फ़ौजों ने बुधवार को ब्रेगा नगर पर एक बार कब्ज़ा कर लिया था, लेकिन जब गद्दाफ़ी विरोधियों ने उनका सामना किया तो उन्हें नगर के हटना पड़ा था. इस संघर्ष में 14 लोग मारे गए थे.

विद्रोहियों का कहना है कि गद्दाफ़ी समर्थक फ़ौजें रास लानुफ़ में हैं जो ब्रेगा के पश्चिम में है और वहाँ से एक और हमला करने की योजना बनाई जा रही है.

इस समय लीबिया की लगभग आधी भूमि पर कर्नल गद्दाफ़ी का नियंत्रण नहीं है लेकिन उन्होंने सत्ता छोड़ने से साफ़ इनकार कर दिया है और कहा है कि अंतिम क्षण तक वे विद्रोहियों का सामना करेंगे.

संबंधित समाचार