संयंत्र में एक और धमाके का डर

इस ऑडियो/वीडियो के लिए आपको फ़्लैश प्लेयर के नए संस्करण की ज़रुरत है

किसी और ऑडियो/वीडियो प्लेयर में चलाएँ

शुक्रवार को आए भूकंप से क्षतिग्रस्त हुए जिस परमाणु संयंत्र में शनिवार को धमाका हुआ था वहीं एक और रिएक्टर पर फिर से वैसा ही ख़तरा मंडरा रहा है.

संयंत्र के ऑपरेटर का कहना है कि उसके दूसरे रिएक्टर में दबाव बढ़ता जा रहा है क्योंकि उसकी आपातकालिक कूलिंग प्रणाली ठप्प हो गई है.

यही समस्या पहले पैदा हुई थी जिसके बाद ज़बरदस्त धमाका हुआ था.

शनिवार को हुए धमाके के बाद फ़ुकुशिमा के परमाणु संयंत्र से धुँआ उठता देखा गया और उसमें कई कर्मचारी घायल हो गए.

एक सरकारी प्रवक्ता ने कहा है कि हालांकि धमाके में इमारात ध्वस्त हो गई है लेकिन अंदर स्टील के बड़े डिब्बे में रखे परमाणु रिएक्टर को नुकसान नहीं पहुँचा है.

बीबीसी के पर्यावरण मामलों के संवाददाता का कहना है कि कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि स्थिति नियंत्रण में है लेकिन कई हैं जो जापान सरकार की सच्चाई पर सवाल उठा रहे हैं.

क्लिक करें क्लिक करें मरनेवालों की संख्या 1700 हुई

परमाणु संयंत्र के 20 किलोमीटर के दायरे में रहने वाले हज़ारों लोगों को इलाक़ा खाली करने के लिए कहा गया है. लेकिन बीबीसी के रिपोर्टर को परमाणु संयंत्र के 60 किलोमीटर के दायरे में जाने से भी रोक दिया गया है. सरकार ने लोगों से संयम बरतने की अपील की है.

इससे पहले जापान में फ़ुकुशिमा स्थित परमाणु ऊर्जा संयंत्र से रेडियोधर्मी विकिरणों का रिसाव शुरू हो गया था. जापानी अधिकारियों ने एक रिएक्टर के आंशिक 'मेल्टडाउन' की स्थिति में पहुंचने की आशंका जताई थी.

जापान के प्रधानमंत्री ने फ़ुकुशिमा के एक और दो ऊर्जा प्लांट में आपात काल घोषित कर दिया था.

इंजीनियर इस आशंका की पुष्टि करने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या एक रिएक्टर मेल्टडाउन की स्थिति में पहुँच गया है.

भूकंप का असर

परमाणु संयंत्र में विस्फोट हुआ है

शुक्रवार के भूकंप के बाद बिजली आपूर्ति बंद हो गई थी जिस कारण कई रिएक्टरों में कूलिंग प्रणाली ने काम करना बंद कर दिया था.

रिएक्टरों में बन रहे दवाब को कम करने के लिए अंदर से हवा का गुबार छोड़ा जा रहा है.

विशेषज्ञों का कहना है कि ये ज़रूरी नहीं है कि रिएक्टर में मेल्टडाउन होने से कोई बड़ी त्रासदी हो क्योंकि ज़रूरत से ज़्यादा गरम होने के बावजूद लाइट-वाटर रिएक्टरों में विस्फोट नहीं होगा.

जापान में आए भूकंप और सुनामी में मारे गए लोगों की संख्या एक हज़ार से ज़्यादा हो चुकी है.

शुक्रवार को जापान में दोपहर के समय 8.9 तीव्रता का भूकंप आया था.वैज्ञानिकों का कहना है कि न्यूजी़लैंड में पिछले महीने आए भूकंप के मुकाबले जापान का भूकंप आठ हज़ार गुना शक्तिशाली था.

न्यूज़ीलैंड में जिस राहत और बचाव टीम ने काम किया था वही टीम जापान पहुँच रही है.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.