कमज़ोर पड़ी वायुसेना, गद्दाफ़ी पर दबाव

इमेज कॉपीरइट Reuters

लीबिया में पश्चिमी देशों के हवाई हमले जारी हैं और इस बीच अमरीका का एक लड़ाकू विमान भी दुर्घटनाग्रस्त हुआ है लेकिन पश्चिमी सेना की हमलों की कार्रवाई ने कर्नल गद्दाफ़ी की वायुसेना को कमज़ोर कर दिया है.

अमरीकी सैन्य कार्रवाई का नेतृत्व कर रहे एडमिरल सैमुयल लॉकलीयर का कहना है कि ‘नो फ़्लाई ज़ोन’ लागू करने की कार्रवाई ने लीबिया की वायुसेना को कमज़ोर कर दिया है.

नेटो भी शामिल

नेटो सैन्य गठबंधन ने कहा है कि उसने लीबियाई सरकार को हथियार बेचे जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है.

इस प्रतिबंध पर अमल के लिए भू-मध्य सागर में नेटो के लड़ाकू विमान और जहाज़ तैनात किए जा रहे है.

इस बीच लीबिया की सरकार का कहना है पश्चिमी सेना के हमलों में बड़ी संख्या में आम नागरिक मारे गए हैं. राजधानी त्रिपोली में राष्ट्रपति गद्दाफ़ी के परिसर के पास से लगातार विस्फोटों की आवाज़ें आ रही हैं.

इससे पहले एक अमरीकी सैन्य प्रवक्ता ने इस बात की पुष्टि की थी कि अमरीका का एक लड़ाकू विमान लीबिया में दुर्घटनाग्रस्त हुआ है. प्रवक्ता के अनुसार चालक दल के दोनों सदस्यों को बचा लिया गया है.

सरकारी टैंकों पर कब्ज़ा

प्रवक्ता का कहना था कि यह स्पष्ट नहीं है कि यह विमान लीबिया से सैनिकों की कार्रवाई में गिरा या खुद ब खुद गिरा.

उधर कर्नल गद्दाफ़ी के वफादार सैनिक लगातार पश्चिमी शहर मिसराता में विद्रोहियों पर बमबारी कर रहे हैं. त्रिपोली के दक्षिण पश्चिम ज़िनतान में भी लड़ाई चल रही है और विद्रोहियों ने सरकारी टैंकों पर कब्ज़ा कर लिया है.

दक्षिणी लीबिया में मौजूद बीबीसी संवाददाता का कहना है कि विद्रोही पश्चिमी देशों के हवाई हमलों का फायदा नहीं उठा पा रहे हैं क्योंकि वो बहुत ही असंगठित जान पड़ते हैं.

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का कहना है कि अमरीका लीबिया में अपने नेतृत्व वाली भूमिका को कुछ ही दिनों में हस्तांतरित कर देगा.

'आम नागरिकों को नुकसान'

ओबामा ने साफ किया कि हवाई हमलों का उद्देश्य आम लोगों को बचाना है लेकिन अमरीका चाहता है कि गद्दाफ़ी सत्ता से हटें.

त्रिपोली में बीबीसी संवाददाता एलन लिटिल का कहना है कि राजधानी का आसमान धुएं, आग और धूल से पटा हुआ है और बार बार विस्फोटों की आवाज़ें आ रही हैं.

लीबिया की सरकारी टीवी के अनुसार कई स्थानों पर हमले हो रहे हैं लेकिन इन हमलों से लीबिया के लोग डरने वाले नहीं हैं.

लीबियाई सरकार के प्रवक्ता मूसा इब्राहिम ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि दक्षिणी शहर सेबा में बड़ा हमला हुआ है जबकि पश्चिमी देश छोटे छोटे शहरों पर भी हमला कर रहे हैं.

अल ज़ज़ीरा टीवी के अनुसार बेनगाज़ी में भी हवाई हमले किए गए है.

इब्राहिम का कहना था कि पश्चिमी देशों के हवाई हमलों में आम नागरिकों का भारी नुकसान हुआ है.

संबंधित समाचार