फ़ुकुशिमा संयंत्र में तापमान बढ़ा

फ़ुकुशिमा परमाणु ऊर्जा संयंत्र इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption फ़ुकुशिमा परमाणु ऊर्जा संयंत्र के 'रिएक्टर चार' का हाल.

जापान के क्षतिग्रस्त फ़ुकुशिमा परमाणु संयंत्र में बढ़ते तापमान और उच्च विकिरण स्तर के कारण संयत्र के तापमान को नियंत्रित करने की कोशिशें प्रभावित हो रही हैं.

उधर भूकंप और सुनामी के कारण 9,079 के मरने की पुष्टि की जा चुकी है. जापान में 12,645 लोग अब भी लापता है.

लेकिन जापानी सरकार का अनुमान है कि मरने वालों की संख्या 21,000 से ज़्यादा हो गई है.

वर्तमान में संयंत्र के एक रिएक्टर से मापी जा रही विकिरण का स्तर कर्मचारियों के काम करने लायक नहीं है.

दूसरे रिएक्टर में तापमान निर्धारित स्तर से क़रीब सौ डिग्री ऊपर पाया गया है.

इस बीच जापान के प्रधानमंत्री नाओतो कान ने फ़ुकुशिमा और इबाराकी क्षेत्रों के गवर्नरों को कृषि उत्पादों के इलाक़े से बाहर जाने पर रोकने का आदेश दिया है.

हरी पत्तेदार सब्ज़ियां, ब्रोकोली, अजवायन और अशोधित दूध जैसे खाद्य पदार्थों को इन दो क्षेत्रों से बाहर ले जाने पर पाबंदी लगा दी गई है.

जापान ने ये क़दम अमरीका के 'फ़ूड ऐंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन' यानि एफ़डीए की उस घोषणा के बाद उठाया है जिसमें जापान से आने वाले कुछ खाद्य पदार्थों में दूषण के डर के कारण प्रतिबंध लगाया था.

एफ़डीए ने एक बयान में कहा है कि जापान के फ़ुकुशिमा, इबाराकी, तोचिगी और गुनमा क्षेत्रों से दूध, दुग्ध उत्पाद और सब्ज़ियों को अमरीका में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा.

संबंधित समाचार