'क्रिकेट कूटनीति' की शुरुआत

मनमोहन सिंह इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तानी नेताओं को आंमंत्रित किया है.

भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मोहाली में होने वाले विश्व कप सेमी फ़ाइनल मुकाबले के लिए पाकिस्तान के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को न्योता दिया है.

बीबीसी के पाकिस्तान संवाददाता हफीज़ चाचड़ से बात करते हुए पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने इसकी पुष्टि की है.

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता तहमीना जंजुआ ने बताया कि भारतीय प्रधानमंत्री महमोनहन सिंह की ओर से पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी और प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी को भारत और पाकिस्तान के बीच हो रहे सेमीफ़ाईनल को देखना का न्योता मिला है.

उन्होंने ने कहा, “हमें भारत सरकार की ओर से दो अलग अलग पत्र मिले हैं जो राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी और प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी केलिए हैं.”

उन्होंने बताया कि पत्र में लिखा है कि 30 मार्च को दोनों देशों के बीच विश्व कप का सेमीफ़ाइनल हो रहा है जिस को साथ देखना दोनों देशों की जनता के लिए ठीक है.

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता के अनुसार भारतीय प्रधानमंत्री की तरफ से दो निमंत्रण पत्र आए हैं जिसमें पाकिस्तान के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को मोहाली का मैच देखने के लिए आमंत्रित किया गया है.

प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह ने इस न्योते में लिखा,"मोहाली में होने वाले इस मुकाबले के लिए मैं भी मौजूद रहूँगा. इस मैच को लेकर दोनों देशों में बहुत उत्साह है और हम सभी क्रिकेट का एक अच्छा मैच देखने की उम्मीद कर रहे हैं. मुझे आपको इस मौके पर उपस्थित होने का न्योता देने में अपार हर्ष हो रहा है.

पकिस्तान टीम भारत में

2008 के मुंबई हमलों के बाद पहली बार पकिस्तान की क्रिकेट टीम भारत पहुँच चुकी है.

मोहाली में बुधवार को भारत के साथ होने वाले विश्व कप सेमीफ़ाइनल मुकाबले के लिए पाकिस्तानी खिलाडियों का दल दिल्ली होते हुए शुक्रवार को चंडीगढ़ पहुंचा.

पंद्रह सदस्यों वाली इस पाकिस्तानी क्रिकेट टीम में करीब आधे खिलाड़ी ऐसे भी हैं जो भारत पहली बार आए हैं.

महा मुकाबला कहे जा रहे इस सेमी फ़ाइनल मुकाबले के लिए सुरक्षा इंतज़ाम पहले ही कड़े कर दिये गए हैं.

कुछ ही दिन पहले अंतरराष्ट्रीय संस्था इंटरपोल ने कहा था कि उन्होंने एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ़्तार किया है जिसपर विश्व कप के दौरान किसी चरमपंथी घटना की योजना बनाने का श़क है.

दूसरी ओर पुराने प्रतिद्वंदियों भारत और पकिस्तान के बीच होने वाले विश्व कप सेमी फ़ाइनल के मद्देनज़र दोनों ही देशों में इस अहम मुकाबले की टिकटों के लिए खेल प्रेमियों की भीड़ उमड़ पड़ी है.

भारत पहले ही सेमी फ़ाइनल मुकाबले के लिए पाकिस्तानी नागरिकों के लिए टिकटों के साथ साथ पांच हज़ार वीसा जारी कर चुका है.

करीब तीन साल पहले मुंबई में हुए चरमपंथी हमलों के बाद से भारत और पकिस्तान के रिश्तों में तनाव बढ़ गया था.

संबंधित समाचार