बयान से पलटे शाहिद अफ़रीदी

शाहिद अफ़रीदी इमेज कॉपीरइट BBC World Service

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कप्तान शाहिद अफ़रीदी अपने उस बयान से पलट गए हैं जिसमे उन्होंने कहा था कि 'भारतीयों के दिल छोटे होते हैं'.

अपने इस विवादास्पद बयान से पलटते हुए अफ़रीदी ने कहा, "मीडिया छोटे मुद्दे को बड़ी बात बना देती है और यह ग़लत है. भारत-पाक रिश्तों में सुधार के लिए मैंने हमेशा प्रयास किए हैं, लेकिन कभी-कभी आप कुछ कहते हो और उसे अलग तरह से समझ लिया जाता है. मेरे बयान को संदर्भ से हटकर पेश किया गया."

शाहिद अफ़रीदी ने सफाई देते हुए इस बात पर ज़ोर दिया कि भारत में उन्होंने क्रिकेट का लुत्फ़ उठाया है और उन्हें भारतीयों से प्यार है.

साथ ही अफ़रीदी ने सोमवार को दिए गए बयान को नकारात्मक ढंग से न लिए जाने की भी अपील की है.

विवादास्पद बयान

सेमी फ़ाइनल मुक़ाबले के बाद वापस लौट गए अफ़रीदी ने पाकिस्तानी टीवी चैनल 'समा' से कहा था, "मेरे ख़्याल में अगर सच्ची बात करुं तो जो मुसलमान का दिल है, जो पाकिस्तानी का दिल है, वो उनका हो ही नहीं सकता.जितना साफ़-सुथरा दिल अल्लाह ने हमें दिया है, वो उनके पास नहीं है."

उन्होंने यह भी कहा था कि भारतीयों के साथ पाकिस्तान की दोस्ती लंबे समय नहीं चल सकती.

पर अब भारतीय समाचार चैनल एनडीटीवी से हुई बातचीत में अफ़रीदी ने सारा दोष मीडिया पर मढ़ दिया.

गौरतलब है कि मोहाली में भारत के साथ हुए सेमी फ़ाइनल मैच में हारने के बाद शाहिद अफ़रीदी ने भारत को मुबारकबाद दी थी और पाकिस्तानी अवाम से हार के लिए माफ़ी मांगी थी.

तब कहा जा रहा था कि पाकिस्तान भले ही मैच हार गया हो लेकिन उनके कप्तान शाहिद अफ़रीदी ने क्रिकेट प्रेमियों के दिल जीत लिए हैं.

लेकिन पाकिस्तान पहुंचकर अफ़रीदी बदले से नज़र आ रहे हैं.

संबंधित समाचार