लीबिया में अजदाबिया को लेकर संघर्ष

इमेज कॉपीरइट Getty Images

लीबिया में कर्नल गद्दाफ़ी समर्थक सैनिकों और विद्रोहियों के बीच अजदाबिया पर नियंत्रण को लेकर संघर्ष जारी है.

पूर्वी शहर अजदाबिया पर मुख्यत विद्रोहियों का कब्ज़ा रहा है लेकिन गद्दाफ़ी के सैनिकों ने शहर पर अचानक धावा बोल दिया.

विद्रोहियों का कहना है कि इस हमले से वे भी भौचक्के रह गए. हालांकि विद्रोहियों ने कहा है कि स्थिति उनके नियंत्रण में है लेकिन पिछले कई घंटों से दोनों पक्षों के बीच गोलीबारी जारी है.

गद्दाफ़ी के सैनिक मरुस्थल से 20 वाहनों में आए और चारों ओर से अजदाबिया पर हमला कर दिया. डॉक्टरों के मुताबिक हिंसा में आठ विद्रोही मारे गए हैं.

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि अजदाबिया पर ये हमला उसे नियंत्रण में लेने की कोशिश से ज़्यादा विपक्षी खेमे को परेशान की कोशिश ज़्यादा लगता है.

मिसराता में भी लड़ाई

वहीं पश्चिमी शहर मिसराता में भी शनिवार को दिन भर गद्दाफ़ी के सैनिकों और विद्रोहियों के बीच झड़पें होती रहीं. मिसराता पर विद्रोहियों का कब्ज़ा है.

मिसराता में नैटो ने हवाईहमले तेज़ कर दिए हैं और हिंसा में बढ़ोतरी के बाद 15 टैंको को नष्ट कर दिया.

लीबिया में नो फ़्लाई ज़ोन स्थापित करने को लेकर विद्रोही नेता नैटो की कोशिशों की आलोचना करते रहे हैं, ख़ासकर तब जब नैटो के हवाई हमले में विद्रोही मारे गए थे.

लेकिन अब विद्रोही नेताओं का कहना है कि वे गद्दाफ़ी के सैनिकों के ख़िलाफ़ तेज़ हुए हवाई हमलों से ख़ुश हैं.

उधर रेड क्रॉस ने कहा है कि वो मिसराता में अपना जहाज़ लाने में सफल रहा है जिसमें ज़रूरी मेडिकल सामान है.

रेड क्रॉस ने बताया है कि गद्दाफ़ी के नियंत्रण वाले कई इलाकों में जाने की अनुमति भी उसे मिल गई है.

इस बीच लीबिया संकट को हल करने की अंततराष्ट्रीय कोशिशें जारी हैं.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून गुरुवार को काहिरा में कई संगठनों से मुलाक़ात करेंगे ताकि लीबिया पर समन्वय बन सके.

संबंधित समाचार