दो बालकों का यौन शोषण किया: पादरी

रोज़े वन खेलूव इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption पूर्व बिशप रोज़े वन खेलूव ने एक बालक का शोषण 13 साल तक करने रहने की बात स्वीकार किया है.

बेल्जियम के एक पूर्व बिशप ने लाइव टीवी प्रसारण में दो बालकों के साथ यौन संबंध की बात स्वीकार की है लेकिन वो ख़ुद को बच्चों का यौन शोषण करनेवाला व्यक्ति नहीं मानते हैं.

पूर्व बिशप रोज़े वन खेलूव ने कहा है कि उन्होंने अपने दो भतीजों का यौन शोषण किया था.

पिछले साल बिशप के पद से इस्तीफ़ा देने से पहले उन्होंने अपने एक भतीजे के साथ संबंधों की बात स्वीकार की थी. उनके ख़िलाफ़ इस संबंध में मामले नहीं चलाया गया है क्योंकि ये घटना दशकों पुरानी है.

टीवी पर प्रसारित बातचीत में उन्होंने अपने कृत्य को काम-वासना नहीं बताया है. उनके इस बयान पर बेल्जियम के राजनितिज्ञों ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है.

क़ानून मंत्री स्टेफ़न द क्लैर्क ने एक बयान में कहा है कि चर्च अधिकारियों को पूर्व बिशप के ग़ैरज़िम्मेदाराना आचरण पर रोक लगानी चाहिए.

मंत्री का कहना था, "ये प्रताड़ितो के लिए, उनके सभी प्रताड़ितों के चेहरे पर तमाचे की तरह है."

रोज़े वन खेलूव ने टीवी पर ये भी दावा किया कि उन्होंने बाद में दोनों बालकों को काफ़ी धन भी दिया था हालांकि लड़को के वकील ने ऐसे किसी लेन देन की बात से इंकार किया है.

वैटिकन ने उन्हें बेल्जियम से बाहर रहने का आदेश दिया था जिसके बाद माना जा रहा है कि चौहतर साल के बिशप किसी और देश में रहते हैं.

वाटिकन को अभी उनके मामले पर अंतिम फैसला लेना है.

संबंधित समाचार