इतिहास के पन्नों से

इतिहास के पन्नों में एक मई का दिन कई कारणों से याद किया जाएगा.

वर्ष 1945 हिटलर की मौत

इमेज कॉपीरइट bbc
Image caption बर्लिन में एडोल्फ हिटलर की मौत हो गई थी

आज ही के दिन वर्ष 1945 में जर्मनी के हैमबर्ग रेडियो ने घोषणा की कि एडोल्फ़ हिटलर की बर्लिन में मौत हो गई है.

स्थानीय समयानुसार 10 बजकर 30 मिनट पर रेडियो पर उदघोषक ने कहा कि हिटलर के मुख्यालय से ये ख़बर आ रही है कि हिटलर जर्मनी की ख़ातिर कम्युनिस्ट बलों के ख़िलाफ़ आख़िरी सांस तक लड़ते हुए अपनी कमाडं पोस्ट पर ढेर हो गए.

रेडियो ने यह भी घोषणा की कि हिटलर ने एडमिरल डोएनिट्ज़ को अपना उत्तराधिकारी नियुक्त कर दिया है.

इसके बाद एडमिरल डोएनिट्ज़ ने अपने संबोधन में कहा कि हिटलर की मौत राजधानी बर्लिन में एक हीरो की तरह हुई और लोग हिटलर की मौत पर शोक मनाएं.

वर्ष 1961 में कास्त्रो ने चुनावी प्रक्रिया समाप्त की

इसी दिन साल 1961 में क्यूबा के प्रधानमंत्री डॉक्टर फ़िदेल कास्त्रो ने क्यूबा को समाजवादी राष्ट्र घोषित कर दिया और चुनावी प्रक्रिया को समाप्त कर दिया.

राजधानी हवाना में हुई 'मे-डे परेड ' में जब कास्त्रो ने ये घोषणा की तो वहां लाखों की संख्या में मौजूद लोगों ने इसका समर्थन किया.

कास्त्रो घोषणा करते हुए कहा कि क्रांति के इस माहौल में चुनाव के लिए समय नहीं है.

उनका कहना था कि लातिन अमरीका में क्रांतिकारी सरकार से ज्यादा कोई लोकतांत्रिक सरकार नहीं है.

कास्त्रो साल 1959 में सत्ता में आए थे.

वर्ष 1994 में रेसिंग ड्राइवर सेन्ना की कार हादसे में मौत

इमेज कॉपीरइट bbc
Image caption आर्यटन सेन्ना को दुनिया का सबसे बेहतरीन फॉर्मूला वन ड्राइवर माना जाता था

इसी दिन साल 1994 में ब्राजिल के मोटर रेस ड्राइवर आईर्टन सेन्ना की कार हादसे में मौत हो गई थी.

ये हादसा उस समय हुआ जब 309 किलोमीटर प्रति घटें की रफ़्तार से दौड़ रही उनकी विल्यम्स एफ़डब्लयू 16 फॉर्मूला वन कार एक छोर पर मुड़ी और फिर वह एक दिवार से जा टकराई.

वह केवल 34 वर्ष के थे.

सेन्ना 41 ग्रां-प्री के विजेता थे और अपनी पीढ़ी के सबसे बेहतरीन मोटर रेस ड्राइवरों में शुमार थे.

संबंधित समाचार