'पाकिस्तान आतंकवादियों को पनाह दे रहा है'

Image caption भारत ने बिन लादेन के खिलाफ अमरीका की कार्रवाई को सही ठहराया है.

भारत सरकार ने ओसामा बिन लादेन के पाकिस्तान में पकड़े जाने पर चिंता जताई है.

गृह मंत्री पी चिदंबरम ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है, “ये हमारी चिंताओं को बल देता है कि पाकिस्तान कई संगठनों से जुड़े आतंकवादियों को पनाह दे रहा है.”

विज्ञप्ति में कहा गया है, कि भारत को यकीन है कि 26/11 मुंबई हमलों के साज़िशकर्ताओं और हमलावरों को अब भी पाकिस्तान में शरण मिली हुई है.

चिदंबरम ने पाकिस्तान से दोबारा अपील की है कि भारत ने हमले से जुड़े जिन लोगों के नामों की सूची पाकिस्तान को दी है, उन्हें पाकिस्तान गिरफ्तार करे.

साथ ही गृह मंत्री ने आतंकवादियों के सहायक होने में संदिग्ध लोगों की आवाज़ों के नमूने भारत को दिए जाने की मांग भी दोहराई है.

'ठोस कार्रवाई करे पाकिस्तान'

भारत के विदेश मंत्रालय की ओर से भी एक विज्ञप्ति जारी की गई है जिसमें कहा गया है, “विश्व को आतंकवाद से निपटने और हमारे पड़ोस में आतंकियों को पनाह देनेवालों के खिलाफ अपने संयुक्त प्रयास जारी रखने चाहिएं.”

विज्ञप्ति में ओसामा का मारा जाना आतंकवाद के खिलाफ विश्व की लड़ाई का एक ऐतिहासिक पल बताया गया है.

विदेश मंत्रालय ने कहा है, “पिछले सालों में आतंकी गुटों ने हज़ारों पुरुष, महिलाओं और बच्चों की जान ली है, उनके खिलाफ विश्व का अभियान जारी रहना चाहिए.”

भारत में नवंबर 2008 में हुए मुंबई हमलों में कुल 166 लोग मारे गए थे जिनमें बड़ी संख्या में विदेशी नागरिक भी शामिल थे.

भारत पहले भी पाकिस्तान पर इस मामले में ठोस कार्रवाई न करने के आरोप लगाता रहा है जिनसे पाकिस्तान लगातार इनकार करता रहा है.

पाकिस्तान ने मुंबई हमलों के सिलसिले में अपने सात नागरिकों को अभियुक्त बनाया है लेकिन मामले की सुनवाई अभी शुरू नहीं हुई है.

संबंधित समाचार