अमरीका में जश्न का माहौल

चरमपंथी संगठन अल-क़ायदा के संस्थापक और नेता ओसामा बिन लादेन के मारे जाने की ख़बर के बाद अमरीका में जश्न का माहौल है और दुनियाभर से प्रतिक्रियाएं आ रही हैं.

अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने एक बयान जारी कर कहा है, ''यह 9/11 हमलों में मारे गए लोगों के साथ उन सभी लोगों के लिए बेहद महत्वपूर्ण क्षण है जो हमारे बच्चों के लिए शांति और आज़ादी भरा भविष्य चाहते हैं.''

उन्होंने कहा, ''मैं राष्ट्रपति और राष्ट्रीय सुरक्षा में जुटी सेनाओं को बधाई देता हूं कि लगभग दस सालों की लगातार कोशिशों की बाद ओसामा बिन लादेन पर कार्रवाई आखिरकार संभव हुई.''

राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने ओसामा की मौत को अमरीका और दुनियाभर में शांति की कामना करने वालों के लिए एक ऐतिहासिक और बड़ी सफलता बताया है.

अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति हामिद करज़ई ने ओसामा बिन लादेन की मौत को एक अहम खबर क़रार देते हुए कहा है कि तालेबान को ओसामा की मौत से सबक सीखते हुए लड़ाई से दूर रहना चाहिए.

'राहत भरी खबर'

यह 9/11 हमलों में मारे गए लोगों के साथ उन सभी लोगों के लिए बेहद महत्वपूर्ण क्षण है जो हमारे बच्चों के लिए शांति और आज़ादी भरा भविष्य चाहते हैं.

अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने कहा है कि यह दुनियाभर में लोगों के लिए एक राहत भरी खबर है लेकिन आंतकवाद का ख़तरा अभी खत्म नहीं हुआ है.

उन्होंने कहा, ''ओसामा बिन लादेन 9/11 हमलों की तरह दुनियाभर में हुए कई चरमपंथी हमलों में शामिल रहे. इन हमलों में हज़ारों लोगों की जानें गईं जिनमें से कई ब्रिटेन के नागरिक थे.''

कैमरन ने कहा कि यह बेहद बड़ी सफ़लता है कि उन्हें ढूंढ निकाला गया और अब वो कभी विश्व में आंतक का प्रसार नहीं कर पाएंगे.

रिपब्लिकन पार्टी के नेता जॉन मैक्केन ने कहा, ''मैं बहुत खुश हूं कि दुनिया का सबसे बड़ा आतंकवादी मारा गया है."

'लोकतांत्रिक मूल्यों की जीत'

फ़्रांस के राष्ट्रपति निकोलस सारकोज़ी ने अमरीका को ओसामा को आखिरकार ढूंढ निकालने की सफलता पर बधाई देते हुए कहा है कि विश्वभर में आतंकवाद के खिलाफ़ छिड़ी लड़ाई में ओसामा की मौत एक महत्वपूर्ण पड़ाव है.

ओसामा बिन लादेन की हत्या की खबर फैलते ही अमरीका में जश्न का माहौल पैदा हो गया है. जगह-जगह लोग अपने घरों से निकल कर सड़कों पर आ गए हैं और खुशियों का इज़हार कर रहे हैं.

उधर इसराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने इसे न्याय और आज़ादी की जीत बताया है और कहा है कि यह उन देशों की जीत है जो लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए कंधे से कंधा मिलाकर लड़ रहे हैं.

रूस ने अल क़ायदा नेता ओसामा की मौत को एक महत्वपूर्ण सफ़लता बताया और कहा कि ओसामा के ज़रिए आतंकवाद के दंश को झेलने वाले देशों में रुस पहला देश था.

जश्न का माहौल

इस बीच अमरीका से बीबीसी संवाददाता ज़ुबैर अहमद का कहना है कि ओसामा बिन लादेन की हत्या की खबर फैलते ही अमरीका में जश्न का माहौल पैदा हो गया है. जगह-जगह लोग अपने घरों से निकल कर सड़कों पर आ गए हैं और खुशियों का इज़हार कर रहे हैं.

ओबामा की घोषणा के बाद व्हाइट हॉउस के सामने भीड़ जमा हो गई और सैंकड़ों लोग हाथों में अमरीकी झंडे लिए ख़ुशी से झूम रहे थे.

ज़ुबैर अहमद के मुताबिक अमरीकी मीडिया में कई विशेषज्ञों ने पाकिस्तान को आड़े हाथों लिया है और कहा है कि इस खबर से पाकिस्तान सरकार को शर्मिंदगी हुई होगी क्योंकि पाकिस्तान ने हमेशा कहा है की ओसामा उनके देश में नहीं है.

अमरीकी समाचार चैनल सीएनएन पर एक विशेषज्ञ ने कहा की ओसामा ऐबटाबाद में एक बड़े घर में आराम से रह रहे थे. ऐबटाबाद कोई जंगल नहीं है बल्कि इस्लामाबाद से केवल 60 मील की दूरी पर है. पाकिस्तानी अधिकारियों को इसकी जानकारी क्यूँ नहीं थी?

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.