सोनी ने फिर दी हैकिंग की चेतावनी

सोनी प्लेस्टेशन इमेज कॉपीरइट Sony
Image caption ‘सोनी ऑनलाइन एंटरटेनमेंट’ सेवा को कुछ समय के लिए बंद घोषित कर दिया है.

जानी-मानी इलैक्ट्रोनिक्स कंपनी सोनी ने चेतावनी दी है कि उसके लगभग ढाई करोड़ उपभोक्ताओं की निजी जानकारी 'हैकिंग अटैक' के ज़रिए सार्वजनिक हो गई है.

ये चेतावनी ख़ास तौर पर सोनी के गेमिंग एपलिकेशन का उपयोग करने वालों के लिए जारी की गई है.

सोमवार को कंपनी की ऑनलाइन सेवा ‘सोनी ऑनलाइन एंटरटेनमेंट’ की सुरक्षा प्रणाली पर 'अटैक' होने के बाद ये सेवा ऑफ़लाइन हो गई थी.

इस मामले की जांच के बाद कंपनी ने बताया कि उपभोक्ताओं की निजी जानकारी इसी ऑनलाइन सेवा से जुड़ी थी.

पिछले हफ़्ते सोनी ने ये स्वीकार किया था कि क़रीब सात लाख 70 हज़ार लोगों की निजी जानकारी को हैकरों ने अवैध तरीके से चोरी कर लिया है.

उपभोक्ताओं के लिए जारी किए गए एक संदेश में कंपनी ने कहा, “हमें पहले लगा था कि ‘सोनी ऑनलाइन एंटरटेनमेंट’ पर उपलब्ध उपभोगताओं की जानकारी को कोई ख़तरा नहीं पहुंचा. लेकिन 1 मई को हमने ये पाया कि इस ऑनलाइन सेवा पर उपलब्ध जानकारी भी चोरी हो गई है.”

समाचार एजेंसी ने सोनी के हवाले से लिखा था कि ये ‘साइबर अटैक’ गत 16 और 17 अप्रैल के बीच हुआ है.

निजी जानकारी को ख़तरा

ये सोनी के 'प्लेस्टेशन' पहला अटैक है.

सोनी ने कहा कि सुरक्षा उल्लंघन के बाद उपभोक्ताओं का नाम, पता, टेलिफ़ोन नंबर, जन्म तिथि, ई-मेल जैसी जानकारी अवैध रूप से हासिल कर ली गई.

साथ ही आस्ट्रिया, स्पेन, नीदरलैंड और जर्मनी में क़रीब 10,700 उपभोगताओं के डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड से जुड़ी जानकारी भी चोरी हो गई है.

सोनी ने सफ़ाई देते हुए कहा कि लोगों के बैंक खाते से जुड़ी जानकारी 2007 के डाटाबेस से ली गई है जिसे कड़ी सुरक्षा के बीच रखा गया था.

सोनी की प्रवक्ता ने समाचार एजेंसी एपी को बताया कि इस बात का अभी तक कोई सबूत नहीं है कि चोरी हुई जानकारियों का ग़लत इस्तेमाल हुआ है.

‘सोनी ऑनलाइन एंटरटेनमेंट’ को कुछ समय के लिए बंद घोषित कर दिया है.

पिछले हफ़्ते सोनी ने घोषणा की थी कि कि वो प्लेस्टेशन की कुछ सेवाएँ जल्द ही बहाल करेगी. प्लेस्टेशन सेवा गत 20 अप्रैल से उपलब्ध नहीं है.

कंपनी का कहना था कि उपभोक्ताओं को नए सिरे से गेमिंग, मूवी और संगीत ऐपलीकेशन से जल्द ही अवगत करवाया जाएगा.

संबंधित समाचार