ओबामा पहुंचे ग्राउंड ज़ीरो

ग्राउंड ज़ीरो

पाकिस्तान में ओसामा बिन लादेन के मारे जाने के कुछ दिन बाद अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा न्यूयार्क के उस स्थान का दौरा किया है 11 सितम्बर 2001 के हमले से पहले वर्ल्ड ट्रेड सेंटर की इमारतें हुआ करती थीं.

राष्ट्रपति ओबामा ने ग्राउंड ज़ीरो पर इस घटना में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी और मृतकों के परिजनों से भी बात की.

इससे पहले व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जे कार्नी ने कहा कि राष्ट्रपति ओबामा अमरीकी जनता की एकता की भावना का सम्मान करना चाहते हैं.

राष्ट्रपति ओबामा ने इस मौके पर तत्कालीन राष्ट्रपति जॉर्ज बुश को भी आमंत्रित किया था, लेकिन जॉर्ज बुश ने ओबामा का निमंत्रण स्वीकार नहीं किया था.

राष्ट्रपति ओबामा का ये दौरा उनकी इस घोषणा के एक दिन बाद हो रहा है जिसमें उन्होंने कहा था कि ओसामा बिन लादेन के शव की तस्वीरें जारी नहीं होंगी.

ओबामा का कहना था, ‘‘मुझे लगता है कि इन तस्वीरों की वीभत्सता के मद्देनज़र यह हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए ख़तरा बन सकता है.’’

इमेज कॉपीरइट AP

सीबीएस टेलीविज़न के साथ एक इंटरव्यू में बराक ओबामा ने कहा था कि उन्हें डर है कि यदि तस्वीरें जारी की गईं तो इस्लाम जगत में ग़ुस्सा भड़क सकता है और अमरीकी अधिकारियों को निशाना बनाया जा सकता है.

इंटरव्यू में ओबामा ने कहा था, "ओसामा बिन लादेन की मौत हो चुकी है लेकिन जो लोग इस पर विश्वास नहीं कर रहे वो उन वीभत्स तस्वीरों को देख कर भी नहीं करेंगे. तस्वीरें जारी कर खुशी मनाने की ज़रूरत नहीं है."

ओबामा का कहना था कि कुछ लोग भले ही यकीन नहीं करें लेकिन सच्चाई यही है कि आप ओसामा बिन लादेन को इस धरती पर चलता हुआ फिर कभी नहीं देखेंगे.

संबंधित समाचार