इतिहास के पन्नों से

इतिहास में आठ मई का दिन कई कारणों से याद किया जाएगा

यूरोप में युद्ध का अंत

इमेज कॉपीरइट bbc
Image caption चर्चिल ने जैसे ही युद्ध समाप्ति की घोषणा की कि लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई

साल 1945 में आज ही के दिन ब्रितानी प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल ने आधिकारिक तौर पर जर्मनी से युद्ध समाप्ति की घोषणा की थी.

केबिनेट के रुम नंबर दस से अपनी घोषणा में चर्चिल ने राष्ट्र के नाम दिए अपने संदेश में देशवासियों को बताया कि अमरीका के रीह्मस स्थित हेडक्वॉटर में बीती रात दो बजकर इक्तालिस मिनट पर युद्दविराम संधि पर हस्ताक्षर किए गए.

इस ख़बर को सुनते ही लोगों की भीड़ लाल,सफेद और नीले रंग की पोशाक में लंदन के बकिंघम पैलेस के बाहर इकट्ठा हो गई और गलियारे में खड़े राजा,रानी और दो राजकुमारियों का अभिवादन कर अपनी खु़शी का इज़हार किया.

सोवियत संघ ने ओलंपिक खेल का बहिष्कार किया

आज ही के दिन 1984 में लॉस एंजेलेस में शुरू होने वाले ओलंपिक खेलों से केवल 12 हफ़्ते पहले सोवियत संघ ने ये घोषणा की कि वो इन खेलों का बहिष्कार करेगा.

माना जा रहा था कि सोवियत संघ का समर्थन करने वाले ईस्टर्न ब्लॉक भी बॉयकॉट का रास्ता अपनाएंगे

इस दिन दोपहर रूस के टेलीविज़न पर ये घोषणा की गई और ये आरोप लगाया कि खेलों का व्यावसायीकरण हो रहा है और सुरक्षा के इंतज़ाम भी पुख़्ता नहीं है

ये भी आरोप लगाया गया कि ये ओलंपिक चार्टर का उल्लघंन है.

सोवियत संघ ने अमरीका पर आरोप लगाया कि वो ओलंपिक खेलों का इस्तेमाल राजनीतिक फ़ायदे और उसके ख़िलाफ़ अपना अभियान चलाने के लिए कर रहा है.

वर्ष 1980 में अमरीका समेत 60 से ज़्यादा देशों ने मॉस्को ओलंपिक का बहिष्कार किया था.

इन देशों ने सोवियत संघ के अफ़ग़ानिस्तान पर किए गए हमले के विरोध में ये बहिष्कार किया था.

जुड़वा क्रे भाई हुए गिरफ़तार

इसी दिन वर्ष 1968 में 34 साल जुड़वा क्रे भाईयों रेजीनाल्ड और रोनी और उनके 41 वर्षीय भाई चार्ली को लंदन में गिरफ़तार किया गया था.

इन भाईयों को मिलाकर कुल 18 लोगों को वेस्ट एंड सेंट्रल पुलिस स्टेशन में रखा गया था.

इन पर हत्या,धांधली और हमलों के आरोप में लगाया गया था.

अपनी तरह के सबसे बडे अभियान के तहत इन लोगों को पकड़ने के लिए स्कॉटलैंड यार्ड के 100 से ज़्यादा जासूसों नें लंदन के घरों और दफ़्तरों पर छापे मारे थे.

ब्रिटेन की स्कॉटलैंड यार्ड पुलिस नें इन लोगों को पकड़ने के लिए एक बड़ा अभियान चलाया था.

संबंधित समाचार