बेवजह फूट रहे हैं तरबूज?

तरबूज
Image caption चीन के जिंआग्सू प्रांत के किसान तरबूजों की फूटने से परेशान हैं.

पूर्वी चीन के किसान तरबूज की फ़सल के बर्बाद होने से परेशान हैं. उनके खेतों के तरबूज एक के बाद एक करके फूटते जा रहे हैं.

सरकारी मीडिया के अनुसार पूर्वी चीन के जिआंग्सू प्रांत में इस समस्या के कारण किसान सैकड़ों ऐकड़ भूमि पर लगी अपनी फ़सल को तबाह होते देख रहे हैं.

चीन के सरकारी टीवी चैनल पर एक रिपोर्ट में तरबूज की फ़सल की इस तबाही के लिए रसायन के छिड़काव को ज़िम्मेदार बताया जिनके कारण ये फल तेज़ी से बड़ा होता है.

लेकिन कृषि विशेषज्ञ ये बताने में असफल हैं कि जिन तरबूजों में रसायन का इस्तेमाल नहीं हुआ था वो क्यों फूट रहे हैं.

विशेषज्ञों ने कहा है कि इसका कारण मौसम और तरबूजों का बड़ा आकार भी हो सकता है.

चीन के सरकारी चैनल के अनुसार किसान अपने खेतों पर ज़रुरत से अधिक रसायन का छिड़काव कर रहे हैं ताकि वो सीज़न से पहले अपने फलों को मंडी में ले जाकर अधिक मुनाफ़ा कमा पाएं.

कोई रसायन नहीं

शिन्हुआ समाचार एजेंसी के मुताबिक जिआंग्सू प्रांत के एक गांव में बीस किसानों ने जापान से आयात किए गए बीजों का प्रयोग किया था. इनमें से दस परिवारों का कहना है कि उनके तरबूज पिछले महीने फूटना शुरू हो गए थे.

एक किसान लिउ मिंगसुओ ने समाचार एजेंसी शिन्हुआ को बताया कि उनकी दो-तिहाई फ़सल फूट चुकी है.

किसान ने कहा कि उन्होंने छह मई को रसायन का छिड़काव किया था और उसके अगले उनके 180 से अधिक तरबूज फूट गए.

रिपोर्ट के अनुसार जिन दस परिवारों के तरबूज फूटे हैं उनमें से सिर्फ़ लिउ मिंगसुओ ने ही रसायन छिड़काव का इस्तेमाल किया था.

बीस साल से तरबूज की खेती कर रहे वांग देहोंद नाम के किसान ये नहीं समझ पा रहे हैं कि रसायनिक छिड़काव का इस्तेमाल नहीं करने के बावजूद उनके तरबूज क्यों फूट रहे हैं.

मामसे की जांच कर रहे कृषि विशेषज्ञ भी इस तबाही के लिए कोई कारण नहीं बता पा रहे हैं.