इतिहास के पन्नों से...

इतिहास में 19 मई का दिन कई कारणों से याद किया जाएगा

2004: ब्लेयर पर आटे से भरे कंडोम फेंके गए

Image caption एक मिसाइल ब्लेयर की पीठ पर लगी दूसरी उनके पैरों पर आ गिरी.

साल 2004 में इसी दिन जब ब्रिटेन के प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर हाउस ऑफ कॉमन्स में अपने सांसदों को संबोधित कर रहे थे, तो उन पर अचानक बैंगनी रंग के आटे से भरे दो कंडोम फेंके गए.

ब्लेयर अपना साप्ताहिक संबोधन कर रहे थे जब वीआईपी गैलरी से रॉन डेवीस उनपर दो कंडोम रूपी मिसाइल फेंकी.

ब्लेयर ने पीछे मुड़ कर देखा और थोड़ा मुस्कुराए. इसके फौरन बाद एक और आदमी, गाय हैरिसन चिल्लाते हुए अपनी जगह से उठे और एक पोस्टर दिखाया.

बाद में एक मानवाधिकार संस्था, 'फ़ादर्स फ़ॉर जस्टिस', ने इस घटना की ज़िम्मेदारी ली और कहा कि वो तलाक़शुदा पिताओं को अपने बच्चों से मिलने के समान अधिकारों की मांग सामने लाना चाहते थे.

1892: ऑस्कर वाइल्ड जेल से रिहा हुए

Image caption जेल से रिहा होने के आठ साल बाद, वर्ष 1900 में ऑस्कर वाइल्ड का देहांत हो गया.

दो साल के सश्रम कारावास के बाद आज ही के दिन वर्ष 1892 में बहुचर्चित नाटककार और कवि ऑस्कर वाइल्ड जेल से रिहा किए गए थे.

दरअसल 1891 में वाइल्ड पर समलैंगिक होने का आरोप लगा था. उस दौरान वाइल्ड अपनी पत्नी और दो बच्चो के साथ इंग्लैंड में रहते थे जहां समलैंगिक होना ग़ैरकानूनी था.

ये मुक़दमा दायर होने के बाद वाइल्ड ने मानहानि का दावा भी ठोंका लेकिन सबूतों के आधार पर वो हार गए और उन्हें दो साल की सज़ा हो गई.

रिहा होने के बाद 1898 में उन्होंने अपनी आखिरी कविता 'द बैलेड ऑफ़ रीडिंग गाओल' लिखी जो उनके जेल के संस्मरणों पर आधारित थी.

1980: सेंट हेलेना ज्वालामुखी फटने से नौ की मौत

अमरीका के वॉशिंगटन में 19 मई 1980 की सुबह साढ़े आठ बजे सेंट हेलेना ज्वालामुखी फटा, जिससे नौ लोगों की मौत हो गई और कई लापता हो गए.

उत्तर पश्चिमी अमरीका के कई शहरों और नगरों में दिन के समय ही अंधेरा छा गया.

ज्वालामुखी फटने से इलाके में भूकंप आ गया और पहाड़ का उत्तरी हिस्सा ढह गया.

रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 5.2 मापी गई.

उबलते लावा ने क़रीब 250 वर्ग किलोमीटर में फैला जंगल भस्म कर दिया, जिसमें हज़ारों जानवरों के मारे जाने की आशंका थी.

संबंधित समाचार