शराबियों को पुलिस से बचा रहा है ट्विटर

ली सेका अभियान

ब्राज़ील में शराब पीकर गाड़ी चलाने से रोकने के लिए अभियान

ब्राज़ील में लोग ट्विटर के ज़रिए चोर पुलिस का खेल रहे हैं.

दरअसल ब्राज़ील के रियो डे जेनेरो प्रांत में पुलिस शराब पीकर गाड़ी चलाने के ख़िलाफ़ एक अभियान चला रही है, जिसका नाम है 'ली सेका'.

इस अभियान की शुरूआत पुलिस ने मार्च 2009 में की थी. इसका मुख्य उद्देश्य था लोगों को शराब पीकर गाड़ी चलाने से रोकना.

लेकिन शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों ने इससे बचने का एक नया रास्ता निकाल लिया है. वे ट्विटर के ज़रिए पुलिस को चकमा देते हैं.

अगर किसी ने ज़्यादा बीयर पी रखी है और फिर भी गाड़ी चलाना चाहता है तो वो ट्विटर का इस्तेमाल करता है जिसके ज़रिए कोई उसे ये बता देता है कि पुलिस किस मोड़ पर कहां खड़ी है और वो उस रास्ते के बजा़ए दूसरे रास्ते का इस्तेमाल करता है.

लेकिन पुलिस भी कोई कम नहीं है वो इन लोगों को चकमा देने के लिए उन रास्तों पर खड़ी रहती है जहां शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों को उम्मीद नहीं होती.

लगातार और प्रभावी निगरानी और ख़ासकर जागरुकता अभियान के कारण हमें ये सफलता मिली है जिसने गाड़ी चलाने वालों के पूरे नज़रिए को बदल दिया है.

कार्लोस अलबर्टो लोप्स, लीसेका के संयोजक

शराब पीकर पकड़े जाने पर सज़ा के तौर पर लाइसेंस रद्द हो सकता है, जुर्माना लग सकता है और पुलिस आपकी कार भी उठाकर ले जा सकती है.

पुलिस इसके लिए लोगों में जागरूकता अभियान भी चला रही है.

रियो में सरकार का कहना है कि मार्च 2009 से इस अभियान के शुरू होने के बाद सड़क हादसों की संख्या में पांच हज़ार की कमी आई है.

इस अभियान में इस क़दर कामयाबी मिली है कि सरकार दूसरे राज्यों में भी इसे लागू करने के बारे में सोच रही है.

इस अभियान के संयोजक कार्लोस अलबर्टो लोप्स ने इसकी कामयाबी पर ख़ुशी जताते हुए कहा, ''लगातार और प्रभावी निगरानी और ख़ासकर जागरुकता अभियान के कारण हमें ये सफलता मिली है जिसने गाड़ी चलाने वालों के पूरे नज़रिए को बदल दिया है.''

ट्विटर पर अभियान

लेकिन रियो के कुछ लोगों के लिए यह अभियान अधिकारियों की तरफ़ से उनकी ज़िंदगी में एक ग़ैरज़रुरी दख़ल है.

ली सेका अभियान एक अच्छी चीज़ है, लेकिन कभी कभी जब मैं अपना ड्राइविंग लाइसेंस भूल जाता हूं तो अपने ब्लैकबेरी पर ट्विटर चेक करता हूं. मेरा ख़्याल है बेहतर है कि आदमी बिना किसी चीज़ की चिंता किए हुए गाड़ी चलाए.

मारसेलो, स्थानीय निवासी

ट्विटर का इस्तेमाल करने वाले एक स्थानीय निवासी मारसेलो का तर्क है, ''ली सेका अभियान एक अच्छी चीज़ है, लेकिन कभी कभी जब मैं अपना ड्राइविंग लाइसेंस भूल जाता हूं तो अपने ब्लैकबेरी पर ट्विटर चेक करता हूं. मेरा ख़्याल है बेहतर है कि आदमी बिना किसी चीज़ की चिंता किए हुए गाड़ी चलाए.''

मार्च 2009 में इस अभियान की शुरुआत के तीन महीने बाद जून 2009 में ट्विटर पर लीसेकाआरजे पेज को शुरू किया गया था और आज डेढ़ लाख लोग उसे फ़ॉलो करते हैं.

इस पेज को चलाने वाले ब्रूनो पॉन्ट्स का कहना है, ''जब इसकी शुरुआत हुई लोग अपने निजी ट्विटर एकाउंट पर एक दूसरे को पुलिस के बारे में जानकारी देते थे, हमने सबको सिर्फ़ एक जगह जमा कर दिया है. यह अपने आप शुरू हुआ एक लोकप्रिय आंदोलन है और हम लोग सिर्फ़ उसकी निगरानी कर रहे हैं.''

लेकिन पूर्व स्वास्थ्य मंत्री होज़ गोम्स ट्विटर का इस्तेमाल करने वालों पर अपनी नाराज़गी जताते हुए कहते हैं, ''ट्विटर पेज हमारे अभियान को नुक़सान पहुंचा रहा है.''

जब इसकी शुरुआत हुई लोग अपने निजी ट्वीटर एकाउंट पर एक दूसरे को पुलिस के बारे में जानकारी देते थे, हमने सबको सिर्फ़ एक जगह जमा कर दिया है. यह अपने आप शुरू हुआ एक लोकप्रिय आंदोलन है और हमलोग सिर्फ़ उसकी निगरानी कर रहे हैं.

ब्रूनो पॉन्ट्स, लीसेकाआरजे के संयोजक

लीसेकाआरजे को ट्विटर के शॉर्टी एवार्ड्स 2011 के लिए नामांकित किया गया है. यह पुरस्कार साल भर में ट्विटर पर छोटी लेकिन सबसे बढ़िया जानकारी मुहैया कराने के लिए दिया जाता है.

ब्रूनो पॉन्ट्स का कहना है कि उनके अभियान का पुरस्कार जीतना ब्राज़ील के लोगों की एक दूसरे से सहयोग करने की भावना को उजागर करेगा, साथ ही इससे यह भी पता चलेगा कि इस तरह की जानकारी कितनी ज़रूरी है.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.