बर्लुस्कोनी को राजनीतिक जीवन दान

सिलवियो बर्लुस्कोनी इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption इस जीत को बर्लुस्कोनी के लिए महत्वपूर्ण बताया जा रहा है

इटली के प्रधानमंत्री सिलवियो बर्लुस्कोनी ने देश की आर्थिक हालत सुधारने वाले पैकेज पर संसद में हुआ मतदान जीत लिया है.

इस मतदान को बर्लुस्कोनी के नेतृत्व वाले गठबंधन की स्थिरता पर मतदान कहा जा रहा था.

सत्तारूढ़ गठबंधन को देश की अर्थव्यवस्था में जान फूँकने वाली नीति पर हुए इस मतदान में 24 मतों से जीत हासिल हुई.

इससे ये भी संकेत सामने आए हैं कि सत्तारूढ़ गठबंधन बुधवार को होने वाले विश्वास मत में भी जीत हासिल कर सकता है.

बर्लुस्कोनी के निजी जीवन के इर्दगिर्द विवाद और आर्थिक सुधारों की धीमी रफ़्तार की वजह से सत्तारूढ़ गठबंधन की स्थिति हाल के समय में लगातार कमज़ोर हो रही थी.

इस गठबंधन को हाल में हुए स्थानीय निकायों के चुनावों और एक लोकप्रिय जनमत संग्रह में हार का सामना करना पड़ा है.

लेकिन मंगलवार को आर्थिक सुधारों वाली नीति पर संसद के निम्न सदन में बहुमत हासिल करने के बाद सत्तारूढ़ गठबंधन का मनोबल बढ़ा है.

इस प्रस्ताव के पक्ष में 293 के मुक़ाबले 317 मत हासिल हुए.

रियायतें

बर्लुस्कोनी के आर्थिक कार्यक्रम में नॉर्दर्न लीग को काफ़ी रियायतें देना शामिल है. ये पार्टी बर्लुस्कोनी की फ्रीडम पार्टी के साथ सत्तारूढ़ गठबंधन में एक महत्वपूर्ण दल है.

बुधवार को बर्लुस्कोनी विश्वास मत पर मतदान से पहले एक बार फिर निम्न सदन को संबोधित करेंगे. इस बार ये मतदान सत्तारूढ़ गठबंधन की शासन करने की योग्यता और क्षमता पर ही होगा.

ये पूछे जाने पर कि क्या बर्लुस्कोनी 2013 तक का अपना मौजूदा कार्यकाल पूरा करेंगे, नॉर्दर्न लीग के नेता उमेर्तो बॉस्सी ने कहा, "अगर वो सही काम करते रहेंगे तो, हाँ."

नॉर्दर्न लीग करों में कटौती और लीबिया में इटली की सक्रियता बंद करने की माँग कर रही है. पार्टी का कहना है कि लीबिया में इटली का ग़ैरज़रूरी ख़र्च हो रहा है.

वित्त मंत्री गियूलोयो त्रेमोन्ती कर कटौती का विरोध करते रहे हैं. उनकी दलील है कि सरकारी ख़ज़ाने में और कटौती नहीं की जा सकती.

पर्यवेक्षकों का कहना है कि इटली के सरकारी ख़ज़ाने पर भारी भरकम क़र्ज़ का सामना करने के लिए जो आर्थिक सुधार किए जा रहे हैं, ख़ुद उनकी भी भारी क़ीमत चुकानी पड़ सकती है.

संबंधित समाचार