चावेज़ वेनेज़ुएला वापस लौटे

चावेज़ इमेज कॉपीरइट AP
Image caption चावेज़ ने विमान से निकलते ही हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन किया

वेनेज़ुएला के राष्ट्रपति ह्यूगो चावेज़ कई हफ़्तों तक क्यूबा में रहकर कैंसर का इलाज करवाने के बाद स्वदेश लौट आए हैं.

राष्ट्रपति चावेज़ ऐसे समय में लौटकर आए हैं जब वेनेज़ुएला अपनी आज़ादी की दो सौवीं वर्षगाँठ मनाने की तैयारी कर रहा है.

मंगलवार को स्पेन से मिली आज़ादी का जश्न मनाया जाना है.

हालांकि उन्होंने कहा है कि वे इस समारोह में हिस्सा नहीं ले पाएँगे.

गत आठ जून को क्यूबा के अधिकारिक दौरे पर गए राष्ट्रपति चावेज़ वहाँ बीमार पड़ गए थे. पहले तो कहा जा रहा था कि उनके पेड़ू के फोड़े का इलाज किया गया है लेकिन अटकलों के बीच उन्होंने ख़ुद बताया कि उन्हें कैंसर था जिसका 'सफलतापूर्वक इलाज' कर लिया गया है.

'ख़ुश हूँ'

राष्ट्रपति चावेज़ सोमवार की सुबह काराकस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पहुँचे.

वहाँ से वे सीधे राष्ट्रपति भवन चले गए.

शाम को भवन की बाल्कनी पर आकर उन्होंने राष्ट्रीय ध्वज लहराकर लोगों का स्वागत किया.

इसके बाद उन्होंने लगभग 30 मिनट तक भाषण दिया. संवाददाताओं कहना है कि ये भाषण लिखा हुआ नहीं था और इस दौरान वे बिना किसी सहायता या सहारे के खड़े रहे.

उनके हज़ारों समर्थक नीचे खड़े लाल झंडे लहरा रहे थे.

इससे पहले सरकारी टेलीविज़न को टेलीफ़ोन पर दिए गए एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि वे एकदम स्वस्थ्य हैं, हालांकि उन्हें डॉक्टरों की सख़्त निगरानी में रहना है, दवाएँ लेनी हैं और आराम करना है और संतुलित भोजन करना है.

56 वर्षीय ह्यूगो चावेज़ ने कहा कि वे वेनेज़ुएला लौटकर बेहद ख़ुश हैं.

चार हफ़्तों से वेनेज़ुएला से उनकी अनुपस्थिति के बाद उनके स्वास्थ्य को लेकर अटकलें लगाईं जा रही थीं.

इसके बाद रविवार को क्यूबा के पूर्व राष्ट्रपति फ़िदेल कास्त्रो के साथ उनकी तस्वीरें जारी की गई थीं.

लेकिन इसके बाद विश्लेषकों ने अनुमान लगाया था कि चावेज़ की समस्या सिर्फ़ पेड़ू का फोड़ा नहीं है और मामला इससे कहीं अधिक गंभीर प्रतीत होता है.

बाद में राष्ट्रपति चावेज़ ने क्यूबा के सरकारी टेलीविज़न पर उपस्थित होकर कैंसर की पुष्टी की थी और बताया था कि 10 जून को हुए ऑपरेशन के बाद हुई जाँच में इसका पता चला और इसके बाद एक बार फिर उनका ऑपरेशन किया गया.

संबंधित समाचार