ईरान: परमाणु वैक्षानिक की 'हत्या'

ईरान परमाणु इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption ईरान के परमाणु कार्यक्रमों का विश्व के कई हिस्सों में विरोध किया जा रहा है.

ईरान की मीडिया में समाचार है कि तेहरान में एक परमाणु वैक्षानिक की हत्या कर दी गई है.

कई समाचार एजेंसियों ने कहा है कि वैक्षानिक की हत्या उनके घर के सामने की गई जबकि कुछ रिपोर्टों के अनुसार हमले में उनकी पत्नी ज़ख़्मी हो गई थीं.

समाचार एजेंसी इसना ने उनका नाम दरयूश रेज़ाई बताया है. हालांकि इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है.

बताया गया है कि वैक्षानिक भौतिक विक्षान के प्रोफेसर भी थे.

इसना का कहना है कि रेज़ाई का संबंध ईरान की परमाणु ऊर्जा संस्था से था.

ईरान के बहुत सारे वैक्षानिकों को पिछले दिनों निशाना बनाया गया है. ईरान इसके लिए अमरीका और इसराइल की ख़ुफ़िया एजेंसियों को ज़िम्मेदार बताता है.

परमाणु हथियार

दोनों देश ईरान पर परमाणु हथियार विकसित करने का आरोप लगाते रहे है और उन्होंने ईरान के ख़िलाफ़ सैनिक कार्रवाई की भी धमकी दी है.

ईरान का कहना है कि उसका परमाणु कार्यक्रम शांतिपूर्ण कार्यो के लिए है.

साल 2010 में ईरान के परमाणु वैक्षानिक मसूद अली मोहम्मदी की हत्या एक रिमोट कंट्रोल बम से कर दी गई थी.

कुछ ख़बरों में कहा गया है कि ताज़ा मामले में हमलावर मोटरसाइकिल पर सवार थे. हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है.

ईरान ने इसी हफ़्ते कहा था कि उसने अपने यूरोनियम संवर्धन को तेज़ करने की व्यवस्था पूरी कर ली है.

संवर्धित यूरेनियम का इस्तेमाल परमाणु बम बनाने में भी किया जा सकता है.

फ्रांस ने ईरान के इस कार्यक्रम को "नया उकसाव" क़रार दिया था.

संबंधित समाचार