हमा में टकराव जारी, कई लोगों की मौत

इमेज कॉपीरइट Reuters

सीरिया के शहर हमा में सुरक्षाकर्मियों और प्रदर्शनकारियों के बीच टकराव जारी है. कार्यकर्ताओं के मुताबिक इस दौरान कई लोगों की मौत हो गई है. बताया जा रहा है कि सैनिक हमा शहर के ईर्द-गिर्द घेरा बनाए खड़े हैं हालांकि अंदर नहीं आए हैं.

स्थानीय नागरिकों ने बीबीसी को बताया है कि लोग शहर छोड़कर आसपास के गाँवों में भाग रहे हैं. शहर पर सीरिया सरकार का नियंत्रण नहीं है.

हमा पर हमला प्रदर्शनकारियों के ख़िलाफ़ देश व्यापी अभियान का हिस्सा है जिसे सरकार ने रविवार को शुरु किया था.

राजधानी दमिश्क सहित कई अन्य शहरों से भी अशांति की ख़बरें आ रही हैं. बीबीसी संवाददाता का कहना है कि गतिरोध की स्थिति बनी हुई है जहाँ हमा मुख्यत स्थानीय लोगों के नियंत्रण में है और सरकार पूर्ण हमले से अभी बच रही है.

अंतरराष्ट्रीय दवाब

इस बीच अमरीकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने अमरीका से काम रहे सीरियाई विद्रोहियों से पहली बार बातचीत की है. इन लोगों का कहना है कि उन्होंने हिलेरी क्लिंटन से आह्वान किया है कि वे बशर अल असद से जल्द सत्ता छोड़ने के लिए कहें.

ये बैठक ऐसे समय हुई है जब सीरिया पर अंतरराष्ट्रीय और कूटनीतिक दवाब बढ़ता जा रहा है. हमा शहर पर हुई कार्रवाई के दौरान रविवार के बाद से 140 लोगों की मारे जाने की ख़बरें हैं.

इटली ने हमा में कार्रवाई के विरोध में अपने राजदूत को वापस बुला लिया है. जबकि यूरोपीय संघ ने सीरिया के रक्षा मंत्री समेत सरकार में शामिल पाँच लोगों पर पाबंदी लगाने की बात की है. पाबंदी के तहत इन लोगों की संपत्ति फ़्रीज़ की जा सकती है और उनके आने-जाने पर भी पाबंदी लग सकती है.

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद सीरिया पर दूसरे दिन भी चर्चा कर रहा है. हालांकि कूटनयिकों का कहना है कि कड़े तेवर वाला कोई प्रस्ताव शायद ही आए.

रूस ने अब तक यूरोपीय देशों के उस मसौदे पर सहमति नहीं दी जिसमें सीरिया में हिंसा की निंदा की गई है लेकिन रविवार की हिंसा के बाद रूस ने संकेत दिए हैं कि वो किसी कम कड़े बयान पर सहमत हो सकता है.

संबंधित समाचार