इतिहास के पन्नों से

1977 में आज ही के दिन प्रसिद्ध पॉप गायक एल्विस प्रेस्ली की मृत्यु हुई थी जबकि 2003 में 'युद्ध अपराधी' ईदी अमीन की मौत हुई.

1977: प्रसिद्ध पॉप गायक एल्विस प्रेस्ली की मृत्यु

Image caption एल्विस प्रेस्ली का 1973 में अपनी पत्नी प्रिस्किला से तलाख़ हो गया था

दुनिया में रॉक एन रोल की धूम मचाने वाले मशहूर पॉप गायक एल्विस प्रेस्ली आज ही के दिन अमरीका के टेनेसी शहर स्थित अपने घर में मृत पाए गए थे.

42 वर्षीय प्रेस्ली ने अपने जीवनकाल में पॉप गानों को एक नए स्वरूप में ढ़ाला और अमरीका से लेकर यूरोप और एशिया तक उनके गाने बेहद लोकप्रिय रहे.

अमरीका के मेमफिस में प्रेस्ली का शव अपने घर के बाथरूम में पड़ा मिला था.

उन्हें तुरंत ही पास के बैप्टिस्ट अस्पताल में ले जाया गया जहाँ चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था.

बाद में हुए पोस्टमार्टम में इस बात का पता चला कि एल्विस की मृत्यु एक प्रकार के दिल का दौरा पड़ने के कारण हुई.

एल्विस प्रेस्ली का 1973 में अपनी पत्नी प्रिस्किला से तलाक़ हो गया था और इस तरह की चर्चा थी की प्रेस्ली और जिंजर ऐलदन की सगाई चुपचाप हो गई थी.

हालांकि प्रेस्ली के मृत्यु के बाद इस तरह के भी कयास लगते रहे कि उनकी मौत के पीछे नशीले पदार्थों का सेवन भी हो सकता है.

2003: 'युद्ध अपराधी' ईदी अमीन की मौत

Image caption इदी अमीन की गिनती अफ़्रीकी इतिहास के क्रूरतम तानाशाहों में होती रही है.

सउदी अरब में अपने निर्वासन के दौरान आज ही के दिन युगांडा के तानाशाह ईदी अमीन की मौत हुई थी.

जेद्दाह शहर के किंग फ़ैसल अस्पताल में क़रीब एक महीने से भर्ती रहे ईदी अमीन कोमा में थे.

अस्पताल के एक प्रवक्ता ने जारी किए गए बयान में बताया कि ईदी अमीन के शरीर के महत्त्वपूर्ण अंगों ने काम करना बंद कर दिया था और यही उनकी मौत की वजह रही.

हालांकि उनकी असल आयु के बारे में मतभेद रहे हैं लेकिन लेकिन ज़्यादातर सूत्रों ने उनकी आयु 80 वर्ष बताई थी.

ईदी अमीन की गिनती अफ़्रीकी इतिहास के सबसे क्रूरतम तानाशाहों में होती रही है.

अमीन ने 1971 से लेकर 1979 तक युगांडा पर शासन किया और तंज़ानिया की सेनाओं और निर्वासन में रह रहे युगांडा के निवासियों ने उन्हें सत्ता छोड़ने पर विवश कर दिया था.

माना जा रहा है कि युगांडा में ईदी अमीन के शासन के दौरान क़रीब 40,000 लोगों की हत्या हुई थी.

साथ ही कई हज़ार लोगों को जेल में डाल दिया गया था और उन्हें यातनाएं दी गई थीं.

संबंधित समाचार