सचिन भी इंग्लैंड के दौरे से बाहर

सचिन तेंदुलकर इमेज कॉपीरइट AP
Image caption सचिन की जगह किसी खिलाड़ी को नहीं भेजा जाएगा

इंग्लैंड का दौरा कर रही भारतीय टीम की परेशानियाँ कम होने का नाम ही नहीं ले रहीं.

सात खिलाड़ियों के बाद अब सचिन तेंदुलकर भी दाहिने पैर के अंगूठे में चोट के कारण भारतीय टीम से बाहर हो गए हैं. उनकी जगह एस बद्रीनाथ को टीम में शामिल किया गया है.

सचिन अब बाक़ी के चार मैचों में भारत की तरफ़ से नहीं खेल पाएंगे.

इसका अर्थ यह हुआ कि सचिन को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सौ शतक लगाने के लिए अभी और इंतेज़ार करना पड़ेगा. यह भी साफ़ हो गया है कि सचिन ने संभवत: इंग्लैंड में अपना अंतिम मैच खेल लिया है.

पहले एक दिवसीय मैच में सचिन चोट के कारण नहीं खेल पाए थे. साऊथैम्पटन में एक सर्जन को दिखाने के बाद सचिन के इस सिरीज़ में खेलने के बारे में फ़ैसला किया गया. डॉक्टर ने उन्हें चार हफ़्ते तक आराम करने की सलाह दी है.

झटका

अब वह पहली उपलब्ध विमान सेवा से भारत के लिए रवाना होंगे. उनके स्थान पर किसी खिलाड़ी को अब टीम में शामिल नहीं किया जाएगा. इसका मतलब यह भी हुआ कि वह 18 सितंबर से होने वाली 20-20 चैम्पियंस लीग में भी वे भाग नहीं ले पाएंगे.

घायल खिलाड़ियों से हताश और मौसम की मार झेल रही भारतीय टीम के लिए यह बहुत बड़ा झटका है.

पहले एक दिवसीय मैच में भारत के लिए जीत के बहुत अच्छे अवसर थे लेकिन पहले बारिश ने खेल बिगाड़ा और फिर रोहित शर्मा ने ब्रॉड की गेंद पर अपनी अंगुली तुड़वा ली.

रोहित के स्थान पर मनोज तिवारी को लाया गया है लेकिन उनके भी मंगलवार को होने वाले मैच में खेलने की संभावना कम है.

रवींद्र जडेजा ज़रूर टीम इंडिया में स्थान पा सकते हैं. वह मूल रूप से किफ़ायती स्पिन गेंदबाज़ी और रिंग के अंदर अपनी तेज़-तर्रार फ़ील्डिंग के लिए जाने जाते हैं.

लेकिन इसके बावजूद उन्हें ग़रीबों का ही युवराज सिंह कहा जाएगा, क्योंकि भारत के लिए खेले गए पिछले दस एक दिवसीय मैचों में उन्होंने मात्र 87 रन बनाए हैं.

संबंधित समाचार