नाव डूबी 180 लोगों की मौत

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption जंजीबार में तट पर शव बह बह कर आ रहे हैं.

तंज़ानिया के ज़ंजीबार टापू के पास क़रीब 500 लोगों को ले जा रही एक नाव डूब गई है. स्थानीय अधिकारियों के अनुसार हादसे में कम से कम 180 लोग मारे गए हैं.

इस नाव पर ज़्यादातर वो लोग सवार थे जो रमजान और ईद के बाद छुट्टियों से लौट रहे थे.

मौके पर मौजूद सूत्रों के अनुसार 300 से ज़्यादा लोगों की जान बचाई जा चुकी है. जीवित बचे लोगों में से एक ने कहा कि इस बड़ी नाव पर क्षमता से कहीं ज़्यादा लोग भरे हुए थे.

जंजीबार की स्थानीय सरकार में मंत्री मोहम्मद आबद ने कहा है कि बचाए गए 325 लोगों में से 40 की हालत बेहद गंभीर है.

गहरे समुद्र में ज़ंजीबर और पेंबा टापुओं के बीच तेज़ लहरों के चलते यह नाव पलट गई.

यह नाव स्थानीय समयानुसार उन्गुजा के बंदरगाह से क़रीब शाम नौ बजे चली और एक बजे रात को पलट गई. मौके पर मौजूद बीबीसी संवाददाता अली सालेह का कहना है कि जंजीबार में तट पर शव बह-बह कर आ रहे हैं और अधिकारी हालात का सामना मुश्किल से ही कर पा रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption हज़ारों की तादाद में इस नाव पर सवार लोगों के रिश्तेदार तट पर जमा हो गए हैं

तंजानिया ने एक बचाव केंद्र स्थापित किया है और पड़ोसी अफ़्रीकी मुल्कों से इस तरह के हालत में ज़रूरी साज़ो सामान उपलब्ध कराने की अपील की है.

जंजीबार के पुलिस कमिश्नर का कहना है कि पीड़ितों को निजी नौकाओं व वाहनों में नज़दीक के बड़े शहर स्टोन टाउन के अस्पताल में पहुंचाया जा रहा है.

प्रत्यक्षदर्शी

ज़ंजिबार में पर्यटन के लिए गई ब्रितानी नागरिक कैथरीन पर्विस जो की तट पर अपनी नाव के आने का इंतज़ार कर रहीं थीं उन्होंने बताया कि उन्होंने पानी के बाहर कई शवों को निकालते जाते देखा है.

एक स्थानीय हैलीकॉप्टर चालक नील्स एजिक ने बताया कि उसने समुद्र में कई लोगों को देखा है. उसके अनुसार, "लोग गद्दों के ऊपर रेफ़्रिजरेटरों के ऊपर और जिस भी तरह की तैरने वाली चीज़ें उनके हाथों में लग सकी है उस तरह की चीज़ों पर चिपके हुए समुद्र में तैर रहे हैं."

एजिक के अनुसार, "लोगों को बचाने के लिए नावें जा रहीं हैं लेकिन समद्र में लहरें बहुत ज़्यादा हैं जिसकी वजह से लोग दिख नहीं रहे हैं. हैलीकॉप्टर से समुद्र में तैरते शव शव साफ़ देखे जा सकते हैं."

संबंधित समाचार