पाकिस्तान को अमरीका की चेतावनी

पनेटा इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption पनेटा ने हमलों के लिए हक़्क़ानी नेटवर्क को ज़िम्मेदार ठहराया

अमरीका के रक्षा मंत्री लियोन पनेटा ने चेतावनी दी है कि अमरीका अफ़ग़ानिस्तान में अमरीकी सैनिकों पर हमला करने वाले पाकिस्तान स्थित चरमपंथियों को रोकने की हरसंभव कोशिश करेगा.

हालाँकि पनेटा ने कार्रवाई के बारे में और ब्यौरा नहीं दिया.

अमरीका ने काबुल में अमरीकी दूतावास और नेटो के मुख्यालय पर हमलों के लिए पाकिस्तान स्थित हक्कानी नेटवर्क को ज़िम्मेदार बताया है.

अमरीकी रक्षा मंत्री ने कहा कि अमरीका ने समय-समय पर पाकिस्तानी सरकार से अपील की थी कि वो हक्कानी नेटवर्क पर अपने प्रभाव का इस्तेमाल करे, लेकिन इसका कोई असर नहीं हुआ है.

पनेटा ने कहा, "मेरा मानना है कि हमारा संदेश बिल्कुल स्पष्ट है. हम अपने सैनिकों की सुरक्षा के लिए कुछ भी करेंगे."

संदेह

रक्षा मंत्री पनेटा समेत अमरीकी अधिकारियों का मानना है कि मंगलवार को अमरीकी दूतावास पर हुए रॉकेट हमले और शनिवार को हुए एक ट्रक धमाके में हक़्क़ानी नेटवर्क का काम है.

ट्रक धमाके में 77 अमरीकी सैनिक घायल हुए थे. रक्षा मंत्री पनेटा ने इस पर चिंता जताई कि हक़्क़ानी नेटवर्क के चरमपंथी अफ़ग़ानिस्तान में अमरीकी सैनिकों पर हमला करके पाकिस्तान भाग जाते हैं.

उन्होंने कहा कि ये स्वीकार नहीं किया जा सकता. लेकिन अमरीकी कार्रवाई की योजना के बारे में उन्होंने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया.

पनेटा ने कहा, "मैं इस पर बातचीत नहीं करने जा रहा कि हम कैसे इसका जवाब देंगे. लेकिन मैं इतना ज़रूर कहूँगा कि हम ऐसे हमले जारी नहीं रहने देंगे."

रक्षा मंत्री बनने से पहले पनेटा सीआईए के निदेशक थे और उन्होंने हक़्क़ानी नेटवर्क पर कार्रवाई के लिए पाकिस्तान पर दबाव भी बनाया था.

संबंधित समाचार