राजिंदर सिंह बन गए हैं फ्रांस के हीरो

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption फ्रांस में लगातार बढ़ती चोरी की घटनाओं के लिए आमतौर पर विदेशी कामगारों को दोषी माना जाता है.

फ्रांस में इन दिनों हर तरफ़ पंजाब के रहने वाले एक शख्स की बहादुरी की चर्चा हो रही है.

पेरिस की भूमिगत रेल में एक महिला का आई-फ़ोन चुराने की कोशिश करते एक चोर से 33 वर्षीय राजिंदर सिंह भिड़ गए और फ़ोन वापस लेने की कोशिश की.

इस हाथापाई के दौरान चोर ने उन्हें डिब्बे से बाहर खींच लिया और रेलवे-ट्रैक पर धकेल दिया. ट्रैक पर बिजली का करंट मौजूद होने से मौके पर ही राजिंदर सिंह की मौत हो गई.

इस घटना के बाद राजिंदर फ्रांस के हीरो बन गए हैं. माना जा रहा है कि फ्रांस में इस तरह की बहादुरी के किस्से आम नहीं और यही वजह है कि राजिंदर सिंह के साथ आम लोगों की संवेदनाएं जुड़ गई हैं.

हज़ारों की संख्या में लोगों ने ट्विटर पर इस घटना को लेकर अपनी प्रतिक्रियाएं ज़ाहिर की हैं. चोरी इस घटना को लेकर जहां लोगों का गुस्सा उमड़ रहा है वहीं राजिंदर सिंह के परिवार के लिए फ्रांसभर में लोग सहानुभूति प्रकट कर रहे हैं.

राजिंदर सात साल पहले फ्रांस पहुंचे थे और पंजाबी छोड़कर उन्हें दूसरी कोई भाषा नहीं आती थी.

पंजाब में बहन की शादी करनी थी इसलिए उन्हें दो नौकरियां करनी पड़ीं. पेरिस में उन्हें लेटर बॉक्स में विज्ञापन डालने और पिज़्ज़ा डिलीवरी का काम मिला.

प्रतिक्रिया

फ्रांस के एक ऑनलाइन समाचार पत्र के संपादक एंटनी बैरेट मुताबिक, ''लोगों में इस तरह का उन्माद और इस तरह की प्रतिक्रिया पहले कभी नहीं देखी गई. हमें सबसे ज़्यादा हैरत इस बात से हुई कि पिछले शुक्रवार को उनकी मौत की खबर के बाद हमारे पास दिनभर पाठकों के फ़ोन आते रहे कि वो किस तरह मदद कर सकते हैं.''

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक फ्रांस के दो संगठनों ने बिना किसी शुल्क राजिंदर के शव को उनके शहर पंजाब तक पहुंचाने की पेशकश की है.

इस बीच राजिंदर सिंह को रेलवे ट्रैक पर फेंकने के संदेह पर मिस्र के एक 23 वर्षीय युवक को गिरफ़्तार किया गया है.

अब पुलिस को उस महिला की तलाश है, जिनके फ़ोन की चोरी को राजिंदर बचाना चाहते थे क्योंकि उस महिला की गवाही इस केस में अहम होगी.

ग़ौरतलब है कि फ्रांस में लगातार बढ़ती चोरी की घटनाओं के लिए आमतौर पर विदेशी कामगारों को दोषी माना जाता है और इस घटना के बाद सरकार ने इस मामले में सख्त क़दम उठाने की बात कही है.

संबंधित समाचार