'सेक्स पर्यटन' वाली टिप्पणी पर माफ़ी मांगी

सेक्स पर्यटन इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption अमरीकी राजदूत ने कहा था 40 फ़ीसदी पुरूष पर्यटक सेक्स के लिए ही फिलीपींस आते हैं.

फिलीपींस में अमरीका के राजदूत ने अपने उस विवादास्पद बयान के लिए माफ़ी मांगी है जिसमें उन्होंने कहा था कि 40 फ़ीसदी पुरूष पर्यटक सेक्स के लिए फिलीपींस आते हैं. इसमें अमरीका समेत संसार के सभी देशों के लोग शामिल हैं

राजदूत हैरी थॉमस ने ये टिप्पणी पिछले महीने एक सम्मेलन के दौरान की थी.

सरकारी अधिकारी इस बात से बेहद नाराज़ थे कि अमरीकी राजदूत ने फिलीपींस को इस तरह दर्शाया जैसे कि ये देश यौन क्रीड़ा के लिए स्वर्ग है.

अधिकारियों के कहना था कि इस बयान से उनके देश की छवि को धक्का पहुँचा है.

फिलीपींस के राष्ट्रपति की प्रवक्ता एडविन लैसिएड्रा का कहना था कि राजदूत हैरी थॉमस के माफ़ी मांगने के बाद ही ये विवाद शांत होगा.

अब अमरीकी दूतावास का कहना है कि राजदूत ने अपनी टिप्पणी पर ख़ेद जताया है.

दूतावास के प्रवक्ता ने बताया कि मोबाइल फ़ोन से फिलीपींस के विदेश मंत्री को भैजे गए मैसेज में राजदूत हैरी थॉमस ने लिखा कि उन्हें बिना किसी प्रमाण के 40 फ़ीसदी जैसे आंकड़े की बात नहीं करनी चाहिए थी.

अमरीका फिलीपींस से लगातार कहता रहा है कि वो सभी विदेशी बाल वेश्याओं और मानव व्यापार की रोकथाम के लिए कदम उठाए .

संबंधित समाचार